Alwar: पटाखों से बारूद निकालकर दिवाली के लिए बना रहे थे बड़ा बम, हो गया धमाका, 4 झुलसे

ये लोग पुराने सुतली बम को तोड़कर उसमें भरे हुये बारूद को एक पेपर पर निकालकर उससे बड़ा बम बनाने कोशिश कर रहे थे. इसी दौरान हादसा हो गया. (सांकेतिक तस्वीर)
ये लोग पुराने सुतली बम को तोड़कर उसमें भरे हुये बारूद को एक पेपर पर निकालकर उससे बड़ा बम बनाने कोशिश कर रहे थे. इसी दौरान हादसा हो गया. (सांकेतिक तस्वीर)

अलवर में हुये बारूदी विस्फाेट (Explosion) में चार छात्र गंभीर रूप से घायल हो गये. ये छात्र दिवाली के लिये बारूद से खुद ही बड़ा बमबनाने का प्रयास कर रहे थे. इसी दौरान यह हादसा हो गया.

  • Share this:
अलवर. शहर के एनईबी थाना इलाके में पॉलिटेक्निक की पढ़ाई कर रहे 4 छात्र बारूदी विस्फोट (Explosion) में घायल हो गये. जोरदार धमाके से इलाके में सनसनी फैल गई. ये छात्र पटाखों से बारूद निकाल कर दीपावली पर बड़ा धमाका करने के लिये बड़ा बम बनाने का एक्सपेरिमेंट (Experiment) कर रहे थे. इसी दौरान उसमें विस्फोट हो गया. घायलों में से 2 छात्रों का सरकारी और एक का निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है. एक छात्र की हालत गंभीर होने के कारण उसे जयपुर रेफर किया गया है. पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है.

पुलिस के अनुसार, घटना एनईबी थाना इलाके के मुल्तान नगर स्थित दिवाकरी कॉलोनी में मंगलवार शाम को हुई. वहां एक मकान की छत पर छात्र गौरव, अंकित, वंश और दीपक दीपावली के लिये बड़ा बम बनाने का एक्सपेरिमेंट कर रहे थे. इसके लिये उन्होंने पुराने सुतली बम को तोड़कर उससे बारूद को निकाल कर बड़ा बम बनाने कोशिश कर रहे थे. इसी दौरान उसमें विस्फोट हो गया. धमाका होते ही छात्रों में चीख पुकार मच गई. जोरदार धमाके से आसपास के लोग भी सकते में आ गये. धमाका और चीख पुकार की आवाज सुनकर आस पड़ोस के लोग मौके पर पहुंचे और घायल छात्रों को अस्पताल पहुंचाकर पुलिस को सूचित किया.

Jalore: मामूली विवाद में दलित युवक पर पेट्रोल छिड़क कर लगा दी आग, 50 फीसदी झुलसा



पॉलिटेक्निक की कर रहे पढ़ाई
छात्रों में से गौरव की गंभीर हालत को देखते हुये उसे प्राथमिक उपचार के बाद जयपुर रेफर कर दिया गया. जबकि वंश और अंकित को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. दीपक का सरकारी अस्पताल में इलाज चल रहा है. इनमें वंश और अंकित की हालत नाजुक बनी हुई है. घटना के बाद एनईबी थाना पुलिस के अलावा प्रशिक्षु आईपीएस और अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे और घटनास्थल का जायजा लिया. पुलिस जांच कर रही है कि छात्रों ने बारूद और आतिशबाजी का स्टॉक कहां से जमा किया था. थानाधिकारी विजेंन्द्र सिंह ने बताया कि सभी छात्र 20-22 साल के हैं और पॉलिटेक्निक की पढ़ाई कर रहे हैं. ये सभी आसपास के रहने वाले हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज