Alwar: विकास दुबे की तरह पपला गुर्जर भी है राजस्थान पुलिस के लिए बड़ी चुनौती, AK-47 से हमला कर हुआ था फरार
Alwar News in Hindi

Alwar: विकास दुबे की तरह पपला गुर्जर भी है राजस्थान पुलिस के लिए बड़ी चुनौती, AK-47 से हमला कर हुआ था फरार
बहरोड़ थाने के लॉकअप में बंद विक्रम उर्फ़ पपला गुर्जर को उसकी गैंग के 2 दर्जन से ज्यादा बदमाश 6 सितंबर, 2019 को AK-47 जैसे हथियारों से हमलाकर उसे छुड़ाकर ले गये थे.

उत्तर प्रदेश के कुख्यात हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की एनकाउंटर में मौत के बाद अलवर जिले के चर्चा में आने की एक और वजह है. वह है करीब 10 माह से फरार चल रहा राजस्थान और हरियाणा का कुख्यात हिस्ट्रीशीटर विक्रम उर्फ पपला गुर्जर.

  • Share this:
अलवर. उत्तर प्रदेश के कुख्यात हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे (Vikas Dubey) की एनकाउंटर में मौत के बाद अलवर जिले के चर्चा में आने की एक और वजह है. वह है करीब 10 माह से फरार चल रहा राजस्थान और हरियाणा का कुख्यात हिस्ट्रीशीटर विक्रम उर्फ पपला गुर्जर (Vikram alias Papala Gurjar). जिले के बहरोड़ थाने में AK-47 से फायरिंग कर लॉकअप से फरार हुए 4 लाख के इनामी बदमाश विक्रम उर्फ़ पपला गुर्जर का राजस्थान पुलिस अभी तक कोई सुराग नहीं लगा पाई है. दोनों गैंगस्टर में एक समानता यह भी के ये दोनों ही महाकाल के भक्त हैं.

6 सितंबर, 2019 को फरार हुआ था विक्रम उर्फ पपला
बहरोड़ थाने के लॉकअप में बंद विक्रम उर्फ़ पपला गुर्जर को उसकी गैंग के 2 दर्जन से ज्यादा बदमाश 6 सितंबर, 2019 को छुड़ाकर ले गये थे. गैंग के बदमाशों ने बहरोड़ थाने पर AK-47 जैसे अत्याधुनिक और अन्य घातक हथियारों से ताबड़तोड़ फायरिंग कर वहां कोहराम मचा दिया था. हालांकि उसके बाद में उसकी गैंग के कई बदमाश पुलिस की गिरफ्त में आ चुके हैं, लेकिन पपला आज भी पुलिस के चुनौती बना हुआ है. पपला पर राजस्थान पुलिस ने 1 लाख और हरियाणा पुलिस ने 3 लाख का इनाम घोषित कर रखा है.

गैंगस्टर आनंदपाल एनकांउटर की याद दिला गया विकास दुबे का मुठभेड़, जानें क्‍या था मामला
नेपाल बॉर्डर तक की खाक छान चुकी है पुलिस


पपला और उसके साथियों को पकड़ने के लिए राजस्थान पुलिस, एसओजी तथा एटीएस की टीमें लगी हुई हैं. टीमों ने राजस्थान, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब और उत्तराखंड सहित कई राज्यों में छापेमारी की. सेन्ट्रल ख़ुफ़िया एजेंसियों की मदद लेकर पुलिस टीमें नेपाल बॉर्डर तक गईं, लेकिन पपला गुर्जर अभी तक पुलिस के हाथ नहीं लग पाया है.

पपला गैंग भी महाकाल की भक्त है
पपला गैंग के सभी बदमाश महाकाल गैंग के रूप में राजस्थान, हरियाणा, दिल्ली और यूपी में क्षेत्र बांटकर काम करते हैं. विकास दुबे की तरह पपला और उसकी गैंग के साथी भी महाकाल के भक्त हैं. इन बदमाशों ने सोशल मीडिया पर महाकाल के नाम से ग्रुप बनाए रखे हैं. इन ग्रुप पर वे महाकाल के भजन और कीर्तन डालते हैं. बदमाशों ने अपनी गाड़ियों पर भी महाकाल लिखा रखा है. इस गैंग की ओउम साईं गैंग के बदमाशों के सीधी लड़ाई रहती है.

Rajasthan: विकास दुबे का अलवर कनेक्शन, यहीं से होते हुए ही मध्यप्रदेश भागा था

सरकार ने लिया था यह एक्शन
पपला गुर्जर फरारी मामले में बहरोड़ थाने के 2 पुलिसकर्मियों हेड कांस्टेबल विजय कुमार और रामवतार को नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया था. जबकि एसएचओ सुगन सिंह और डीएसपी जनेश सिंह तंवर सहित 5 पुलिसकर्मियों को निलंबित किया गया था. वहीं बहरोड़ थाने के अन्य सभी 69 पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर किया गया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading