लाइव टीवी

अलवर जेल में मोबाइल फेंकने की कोशिश करता युवक गिरफ्तार, यहां बंद है पपला गिरोह के चार आरोपी

Rajendra Prasad Sharma | News18 Rajasthan
Updated: October 5, 2019, 6:28 PM IST
अलवर जेल में मोबाइल फेंकने की कोशिश करता युवक गिरफ्तार, यहां बंद है पपला गिरोह के चार आरोपी
अलवर जेल के बाहर से मोबाइल फेंकता युवक गिरफ्तार

अलवर जिले के केंद्रीय जेल की दीवारों के ऊपर से कैदियो को मोबाइल फेंकने के मामले में एक युवक को जेल की सुरक्षा में तैनात आरएसी के जवानों को गिरफ्तार कर लिया है.

  • Share this:
अलवर.राजस्थान के अलवर(alwar) जिले के केंद्रीय जेल (central jail) की दीवारों के ऊपर से कैदियो को मोबाइल फेंकने के मामले में एक युवक को जेल की सुरक्षा में तैनात आरएसी के जवानों को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने आरोपी युवक के पास से एक मोबाइल(mobile) भी बरामद किया है. फिलहाल पुलिस आरोपी युवक को गिरफ्तार कर पूछताछ में जुटी है.

कुख्यात अपराधी आनंदपाल का भाई रुपेंद्र सिंह भी अलवर जेल में है बंद

जानकारी के मुताबिक अलवर जेल(alwar jail) की बाहरी सुरक्षा में तैनात आरएसी के जवानों ने शुक्रवार को जेल के अंदर मोबाइल फेंकने का प्रयास करने के मामले में 25 वर्षीय युवक सोनू चौहान को पकड़कर पुलिस को सौंप दिया. आरएसी के जवानों ने युवक के पास से दो मोबाइल भी बरामद किए हैं. आरोपी सोनू चौहान जेल में किस बदमाश या अपराधी गिरोह तक मोबाइल पहुंचाने का प्रयास कर रहा था, इस बारे में पुलिस उससे पूछताछ करने में जुटी हुई है. बता दें कि अलवर जेल में फिलहाल हरियाणा (haryana) के कुख्यात गैंगस्टर पपला गुर्जर गिरोह (Gangster Papala Gurjar) के 4 बदमाश और मुठभेड़ में मारे गए कुख्यात अपराधी आनंदपाल (anandpal)का भाई रुपेंद्र सिंह उर्फ विक्की भी बंद है. विक्की को 3-4 दिन पहले ही अलवर जेल में शिफ्ट किया गया है.

आरोपी युवक को जेल की सुरक्षा में तैनात आरएसी के जवानों ने किया गिरफ्तार
आरोपी युवक को जेल की सुरक्षा में तैनात आरएसी के जवानों ने किया गिरफ्तार


आरोपी ने जेल के अंदर मोबाइल फेंकने के प्रयास की बात स्वीकारी

जेल में तैनात आरएसी के जवानों ने बताया कि जेल के पीछे की तरफ दीवार पर खड़े होकर एक युवक जेल के अंदर मोबाइल फेंकने का प्रयास कर रहा था. युवक द्वारा फेंका मोबाइल जेल के अंदर गिरने की बजाए दीवार से टकरा कर बाहर ही गिर गया. इसी बीच आरएसी जवान ने युवक को देख लिया तो वह बाइक से भाग गया. करीब 15 मिनट बाद फिर यह युवक जेल में बंद दोस्त सन्नी, भूपेंद्र व राकेश से मुलाकात के बहाने जेल के मुख्य गेट पर पहुंच गया. यहां आरएसी जवानों ने युवक सोनू व उसकी बाइक को पहचान लिया और उसे पकड़कर उससे पूछताछ की. सोनू ने जेल के अंदर मोबाइल फेंकने के प्रयास की बात स्वीकार की. आरएसी की सूचना पर पुलिस युवक को थाने ले गई.

पुलिस आरोपी से पूछताछ में जुटी
Loading...

कोतवाली थानाधिकारी अध्यात्म गौतम ने बताया कि जेल प्रशासन ने युवक को गिरफ्तार किया है, जिससे पूछताछ की जा रही है. जेल की सुरक्षा में तैनात आरएसी के जाप्ता प्रभारी प्रहलाद सिंह ने बताया कि आरोपी सोनू कई दिनों से संदिग्ध हालत में जेल के बाहर घूमता नजर आ रहा था, इसलिए वे उसकी गतिविधियों पर नजर रखे हुए थे. पूछताछ में सोनू ने इससे पहले जेल में पीछे की तरफ से बीड़ी, गुटखा व अन्य सामान फेंकने की बात भी कबूली है. आरोपी सोनू चौहान करीब दो साल पहले हत्या प्रयास के मामले में अलवर जेल में भी बंद रहा था, तभी उसकी दोस्ती जेल में बंद बदमाश सन्नी, भूपेंद्र व राकेश से हुई थी. फिलहाल पुलिस आरोपी से पूछताछ में जुटी है.

ये भी पढ़ें-
मां से रेप, बेटी से ज्यादती की कोशिश के आरोपी की सरेआम पिटाई का VIDEO वायरल
10 साल जेल काटने के बाद फिर रेप की कोशिश,इसबार भीड़ ने किया ये हाल-Video Viral

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अलवर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 5, 2019, 6:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...