दौसा: अस्पताल से भाग निकला आर्म्स एक्ट आरोपी, Corona रिपोर्ट का था इंतजार
Dausa News in Hindi

दौसा: अस्पताल से भाग निकला आर्म्स एक्ट आरोपी, Corona रिपोर्ट का था इंतजार
पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है.

जेल में कोरोना (COVID-19) जांच रिपोर्ट के बाद ही बंदी को लिया जाता है. ऐसे में कोरोना जांच के लिए जिला अस्पताल में सैंपल (Corona Sample) दिया गया. जांच रिपोर्ट के इंतजार में आरोपी को जेल अस्पताल में ही एडमिट कर रखा था, जहां से वो फरार हो गया.

  • Share this:
दौसा. कोरोना जांच (Coronavirus) रिपोर्ट आने के लिए दौसा जिला अस्पताल में एडमिट आर्म्स एक्ट (Arms Act) का आरोपी फरार हो गया है. आरोपी सुभाष उर्फ कालू बावरिया को महुआ थाना पुलिस ने आर्म्स एक्ट के तहत अरेस्ट किया था और आरोपी को न्यायालय ने जेल कस्टडी में भेजा था. जेल में कोरोना जांच रिपोर्ट के बाद ही बंदी को लिया जाता है. ऐसे में कोरोना जांच के लिए जिला अस्पताल में सैंपल दिया गया. जांच रिपोर्ट के इंतजार में आरोपी को जेल अस्पताल में ही एडमिट कर रखा था, लेकिन शुक्रवार की दोपहर करीब 1 बजे टोंक जिले के उद्दा गांव निवासी सुभाष उर्फ कालू हाल निवासी झारोटी जिला भरतपुर अस्पताल से फरार हो गया.

जैसे ही आरोपी फरार हुआ तो पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया. फिर आरोपी की तलाश के लिए पुलिस की कई टीम रवाना की गई. पुलिस ने बताया कि आरोपी को खाना भिजवाया गया था लेकिन खाना खाने से पहले वह शौच जाने के लिए शौचालय में गया था. फिर शौचालय में एग्जास्ट फैन वाली जगह से बाहर निकल गया और पाइप के सहारे नीचे उतर गया. इसके बाद आरोपी फरार हो गया. फिलहाल, पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है.

ये भी पढ़ें: लखनऊ: MP के राज्यपाल लालजी टंडन अभी भी वेंटिलेटर पर, एक्पर्ट डॉक्टरों टीम कर रही मॉनिटर



कोरोना से होने वाली मृत्यु दर कम होकर अब 2 प्रतिशत
हाल ही में चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा  ने प्रदेश में कोरोना की स्थिति की विस्तार से समीक्षा की. उन्होंने बताया कि प्रदेश में अब तक 11 लाख से अधिक कोरोना सैंपल की जांच की जा चुकी है. 27 स्थानों पर कोरोना जांच की सुविधा उपलब्ध कराई जा चुकी है. प्रति 10 लाख सैंपल की दृष्टि से राजस्थान देश के अग्रणी प्रदेशों में शामिल है. राष्ट्रीय औसत 9168 की तुलना में राजस्थान में प्रति 10 लाख की आबादी पर 14122 सैंपल लिए जा रहे है. राजस्थान की पॉजिटिव रेट 2.35 प्रतिशत है जबकि राष्ट्रीय औसत 7.82 है. इसी प्रकार राजस्थान की रिकवरी रेट लगभग 74 प्रतिशत है जबकि राष्ट्रीय औसत 63.27 प्रतिशत है. राजस्थान में कोरोना से होने वाली मृत्यु दर कम होकर अब 2 प्रतिशत रह गई है, जबकि राष्ट्रीय औसत 2.60 है. जुलाई महीने में राजस्थान में कोरोना से होने वाली मृत्यु दर 1.54 प्रतिशत रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज