Home /News /rajasthan /

Love Marriage के 40 साल बाद बुजुर्ग दंपति ने लिये 7 फेरे, बेटी और दामाद ने करायी अनोखी शादी

Love Marriage के 40 साल बाद बुजुर्ग दंपति ने लिये 7 फेरे, बेटी और दामाद ने करायी अनोखी शादी

Amazing Couple: उम्र के इस आखिरी पड़ाव में अब दोनों की समाज की मान्यताओं के अनुरूप शादी करायी गई. शादी के बाद यह दंपति काफी खुश नजर आया.

Amazing Couple: उम्र के इस आखिरी पड़ाव में अब दोनों की समाज की मान्यताओं के अनुरूप शादी करायी गई. शादी के बाद यह दंपति काफी खुश नजर आया.

Amazing love story: बांसवाड़ा में 60-60 साल के बुजुर्ग महिला और पुरुष की शादी चर्चा का विषय बनी हुई है. दरअसल इन्हें 40 साल पहले एक दूसरे से प्यार हो गया था. लेकिन दोनों के परिजन शादी के लिये राजी नहीं हुये तो इन्होंने लव मैरिज (Love Marriage) कर ली. लेकिन दोनों के मन में पूरे रस्मो-रिवाज से शादी करने की कसक रह गई थी. इनकी इस टीस को इकलौती बेटी और दामाद ने भांप लिया. इस पर बेटी और दामाद ने अब दोनों की लव मैरिज के 40 साल बाद पूरी रीति रिवाजों से शादी करवायी है.

अधिक पढ़ें ...

आकाश सेठिया.

बांसवाड़ा. राजस्थान के आदिवासी बाहुल्य बांसवाड़ा में एक अनोखी शादी (Unique Wedding) हुई है। यहां 40 साल पहले लव मैरिज (Love Marriage) करने के बाद अब उस कपल ने सात फेरे लिए हैं. फेरों से पहले एक दूसरे को वरमाला पहनाई. दंपती के घर में हल्दी और मेहंदी की रस्म हुई. महिलाओं ने मंगलगीत गाए. फिर पूरे रस्मो-रिवाज के साथ 60 साल के दूल्हे-दुल्हन की शादी कराई गई. यह शादी इसलिये भी काफी अहम और खास थी क्योंकि इस शादी को कराने वाले उनकी बेटी और दामाद है. इस बुजुर्ग दंपति की शादी को देखने के लिये लोगों में काफी उत्साह रहा. इन दोनों की प्रेम कहानी काफी रोचक भी है.

दरअसल सामाजिक विरोध के कारण दोनों की पहले विधिवत रूप से शादी नहीं हो पाई थी. लेकिन उनकी इकलौती बेटी और दामाद की इच्छा थी कि बुजुर्ग दंपति पूरे रस्मों रिवाज के साथ विवाह के बंधन में बंधे. इसलिए उम्र के इस आखिरी पड़ाव में अब दोनों की समाज की मान्यताओं के अनुरूप शादी करायी गई. शादी के बाद यह दंपति काफी खुश नजर आया.

परिवार और समाज का विरोध झेलना पड़ा था
करीब 40 साल पहले रूपगढ़ के वड़लीपाड़ा निवासी बाबू को तलाईपाड़ा निवासी कांता से प्यार हो गया था. दोनों एक-दूसरे को पसंद करते थे. उस समय प्रेम-विवाह समाज में इतना स्वीकार्य नहीं था. दोनों के परिवार उनकी शादी के खिलाफ थे. हालांकि फिर भी दोनों ने लव मैरिज कर ली और साथ रहने लगे. इस पर उन्हें परिवार और समाज का विरोध भी झेलना पड़ा था. इसी वजह से उस समय दोनों की सामाजिक रीति-रिवाज से शादी नहीं हो सकी थी. लव मैरिज के बाद उनके एक बेटी हुई.

बेटी और दामाद को दंपति की टीस का आभास था
लव मैरिज के बावजूद सामाजिक रूप से शादी न हो पाने की टीस बाबू और कांता के मन कहीं न कहीं रह गई थी. उनकी बेटी और दामाद को भी इसका आभास हो गया था. इसलिये दोनों ने बुजुर्ग दंपति को विधिवत रूप से शादी के बंधन में बांधने की ठानी. बुधवार को बाबू और कांता ने सामाजिक रीति-रिवाज के साथ फेरे लिए.

शादी में जुटे करीब 100 लोग
शादी में करीब 100 लोगों ने शिरकत की. कांता के परिवार वालों को भी बुलाया गया. बाबू और कांता की एक ही संतान है सीमा. उसकी शादी राजू से हुई है. बुजुर्ग दंपति के लिए बेटी और दामाद ही सबकुछ हैं. यह शादी अब इलाके में चर्चा का विषय बनी हुई है.

Tags: Banswara news, Marriage news, Rajasthan latest news, Rajasthan news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर