आनंदपाल एनकाउंटर के बाद फिर उड़ी पुलिस की नींद, 'कराया गया हाईप्रोफाइल मर्डर'

ETV Rajasthan
Updated: July 17, 2017, 2:37 PM IST
आनंदपाल एनकाउंटर के बाद फिर उड़ी पुलिस की नींद, 'कराया गया हाईप्रोफाइल मर्डर'
एसडीएम रामेश्‍वरदयाल मीणा का पुत्र. फोटो-(ईटीवी)
ETV Rajasthan
Updated: July 17, 2017, 2:37 PM IST
राजस्थान में आनंदपाल एनकाउंटर की सीबीआई जांच कराने का मामला अभी थमा नहीं था कि एक और मामले ने पुलिस प्रशासन की नींद उड़ा के रख दी है.

दरअसल, मामला बांसवाड़ा जिले के कुशलगढ़ का है, जहां कुशलगढ़ एसडीएम रामेश्‍वरदयाल मीणा अनास नदी में बह गए थे. जिसके बाद उनका शव रविवार को तीसरे दिन मिला. शव मिलने के बाद परिजनों ने गंभीर आरोप लगाए हैं.

एसडीएम मीणा के बेटे सहित अन्‍य परिजनों ने इस पूरी घटना को हाईप्रोफाइल मर्डर बताया है. अब मीणा के परिजन सीबीआई जांच की मांग के लिए अड़ गए हैं. साथ ही परिजन शव का पोस्टमार्टम एसएमएस अस्‍पताल में कराने के लिए कह रह हैं और रविवार से शव मोर्चरी में रखा हुआ है और पोस्टमार्टम नहीं हो पाया है.

इस दौरान बांसवाड़ा प्रशासन ने एसडीएम के शव के पोस्‍टमार्टम कराने की तैयारी पूरी कर ली है, लेकिन परिजन अपनी मांगों को लेकर अड़े हुए हैं और मामले की जांच सीबीआई से कराने की कह रहे हैं.

वहीं इस मामले को जिला कलेक्टर भगवतीप्रसाद ने गम्‍भीरता से लिया है और शव का पोस्टमार्टम कराने के लिए एमजी चिकित्सालय में 5 सदस्यीय मेडिकल बोर्ड गठन किया है. हालांकि परिजनों की मांगों के चलते पोस्टमार्टम नहीं हो पा रहा है.

आपको बता दें कि प्रशासन ने तीन दिन तक रेस्क्यू चलाकर रविवार सुबह मीणा का शव खोजा था, लेकिन शव नग्न अवस्था में मिलने पर मामला संदिग्ध माना जा रहा है और लगातार सुलझने की बजाय कड़ी दर कड़ी उलझता जा रहा है.
First published: July 17, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर