होम /न्यूज /राजस्थान /BARAN: सर्दी में सजा गर्म कपड़ों का बाजार, दो साल बाद कैसी वैरायटी लाए हैं तिब्बती? जानें यहां क्या है खास

BARAN: सर्दी में सजा गर्म कपड़ों का बाजार, दो साल बाद कैसी वैरायटी लाए हैं तिब्बती? जानें यहां क्या है खास

Tibbati Market : शहर में तीन से चार महीने का धंधा करने पहुंचे तिब्बती शरणार्थियों का कहना है कि 1967 में चाइना के तिब्ब ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट – हर्षिल सक्सेना

बारां. सर्दी के मौसम में हर साल की तरह इस बार भी गर्म कपड़ों का बाजार शहर में सजने लगा है. 2 साल बाद तिब्बतियों ने भी शहर में गर्म कपड़ों का बाजार लगाया है. पिछले 10 सालों से सर्दी के मौसम में व्यापार करने आ रहे तिब्बती कोरोना काल के 2 साल के दौरान यहां नहीं आ पाए थे. शहर के तिब्बती मार्केट में छोटे बच्चों के ऊनी मोज़ों से लेकर केप, जैकेट, स्वेटर और मफलर से लेकर नई वैरायटी की लेदर जैकेट, फर जैकेट उपलब्ध हैं. महिलाओं और पुरुषों के गर्म कपड़े 500 से लेकर 2000 रुपये तक की रेंज में हैं.

व्यापारी नेम्पो नामो ने बताया हम पिछले 10 साल से बारां में गर्म कपड़ों का बाजार लगाते रहे हैं. पहले श्रीराम स्टेडियम के पास बाजार लग रहा था, मगर इस बार हमें वहां जगह नहीं मिली और तिब्बती बाज़ार शहर के पब्लिक पार्क के पास लगाना पड़ा है. यहां हमारी 10 दुकानें लगी हैं. किफायती दरों पर ठंड के कपड़े यहां उपलब्ध हैं. नामो ने कहा हमारे माल में ग्राहकों को किसी प्रकार की कोई शिकायत नहीं मिलती. वहीं नेम्पा ने बारां के लोगों से गर्म कपड़ों की खरीदारी यहीं से करने की अपील की.

दो साल में हुआ बड़ा नुकसान

एक और कपड़ा व्यापारी तेंजिन कूनचोक ने कहा कोरोना काल के समय हम बारां में व्यापार करने नहीं आ सके. इससे हमारा काफी नुकसान भी हुआ. सर्दियों में ऊनी वस्त्रों का व्यापार करने हम 4 महीने के लिए बारां आते हैं. कोरोना में हमारी आर्थिक स्थिति भी काफी खराब हुई. घर खर्च चलाने के लिए हमें कई तरह के काम करने पड़े. अब 2 साल बाद बारां शहर में आकर काफी अच्छा लग रहा है.

कूनचोक ने उम्मीद जताई कि वे यहां से लाभ कमाकर जाएंगे. बारां की जनता हमें प्यार देती है. हमारे माल में कभी भी किसी तरह की कोई परेशानी नहीं आई. एक बार ग्राहक हमसे माल लेकर जाता है तो दोबारा खुश होकर वापस आता है.

Tags: Baran news, Tibet People

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें