प्रधानमंत्री जनधन योजना का हाल, यहां नाले में पड़े मिले 300 से ज्यादा ATM कार्ड

राजस्थान के बारां जिले के छबड़ा इलाके में बुधवार को एक नाले में 300 से अधिक बैंक एटीएम कार्ड पड़े मिलने की खबर से क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक प्रशासन में हड़कंप मच गया.

Vipin Tiwari | News18Hindi
Updated: July 3, 2019, 1:46 PM IST
प्रधानमंत्री जनधन योजना का हाल, यहां नाले में पड़े मिले 300 से ज्यादा ATM कार्ड
नाले में पड़े मिले एटीएम कार्ड. (फोटो-ANI)
Vipin Tiwari | News18Hindi
Updated: July 3, 2019, 1:46 PM IST
राजस्थान के बारां जिले के छबड़ा इलाके में बुधवार को एक नाले में 300 से अधिक बैंक एटीएम कार्ड पड़े मिलने की खबर से क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक प्रशासन में हड़कंप मच गया. गांव के और गरीब लोगों को बैंक से जोड़ने के लिए प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत बैंक खाते खोलने के बाद ये कार्ड ग्रामीणों तक पहुंचाए जाने थे. 2016 में जारी ये कार्ड बैंक खाताधारियों के पास भेजे गए थे, लेकिन बैंक प्रशासन की लापरवाही के चलते ऐसा नहीं हो सका.

जनधन योजना के तहत खाते खोले जाने के करीब तीन साल बाद छबड़ा के बड़ौदा राजस्थान क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक के ये एटीम कार्ड ग्राहकों तक पहुंचने की जगह अब नाले में पड़े मिले हैं. राहगीरों ने जब बंद लिफाफे में एटीम कार्ड नाले में पड़े देखे तो बैंक को सूचना दी गई. बैक अधिकारियों में हड़कंप मच गया. आनन-फानन में बैक कर्मचारी मौके पर पहुंचे और नाले से कार्ड समेट कर बैंक ले गए.

ATM cards, bank manager
गुलाब चंद बैरवा, प्रबंधक, बड़ौदा राजस्थान क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक.


जानकारी के अनुसार, बड़ौदा राजस्थान क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक में सभी एटीएम कार्ड सीधे ग्राहक तक नहीं बल्कि पहले बैंक पहुंचते हैं. बैंक से ग्राहकों को एटीएम कार्डों का वितरण किया जाता है. लेकिन नाले में एटीएम कार्डों का पहुंचना बैंक की लापरवाही की ओर इशारा कर रहा है.

atm card, ani tweet
ट्विटर पर एटीएम कार्ड मिलने की जानकारी.


प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत 2016 में ये कार्ड जारी किए गए थे. तब इन्हें खातेदारों को बांटने के लिए बैंक से भेजा गया था. 
गुलाब चंद बैरवा, प्रबंधक, बड़ौदा राजस्थान क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक


बैंक मैनेजर गुलाबचंद बैरवा के अनुसार सभी एटीएम कार्ड तीन साल पहले बांटने के लिए बैंक से भेजे गए थे. लेकिन इनमें से कुछ खाते बंद हो गए और कुछ ब्लॉक होने से नहीं बांटे जा सके. शुरुआती जांच में सामने आया है कि जिस व्यक्ति को एटीएम कार्ड बांटने का जिम्मा दिया गया था, उसके पास ही ये रखे हुए थे. बैंक मैनेजर की मानें तो एक दिन पहले उसके यहां से सामान अन्य स्थान पर शिफ्ट किया जा रहा था और इस दौरान लापरवाही से ये कार्ड नाले में गिर गए.
First published: July 3, 2019, 12:26 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...