मोबाइल का लालच देकर बैचलर की कर दी नसबंदी
Baran News in Hindi

बारां जिले में जनसंख्या नियंत्रण के नाम पर टारगेट पूरा करने के चक्कर में एक अविवाहित युवक को पैसे का लालच देकर उसकी नसबंदी कर दी गई. मामला सामने आने पर चिकित्सा विभाग में हडकंप मच गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 13, 2018, 9:07 PM IST
  • Share this:
बारां जिले में जनसंख्या नियंत्रण के नाम पर टारगेट पूरा करने के चक्कर में एक अविवाहित युवक को पैसे का लालच देकर उसकी नसबंदी कर दी गई. मामला सामने आने पर चिकित्सा विभाग में हड़कंप मच गया है. पीड़ित युवक बारां शहर के तलाबपाड़ा क्षेत्र का अशफाक मोहम्मद है. उसकी चिकित्सा विभाग की ओर से परिवार नियोजन के तहत अंता कस्बे में 6 अप्रैल को आयोजित पुरुष नसबंदी शिविर में नसबंदी कर दी गई.

बकौल अशफाक चिकित्सा विभाग की एक नर्स और अन्य कर्मचारी उसे 6 हजार की नगदी और एक मोबाइल देने के बहाने अंता ले गए. वहां पर उसकी नसबंदी कर दी. अशफाक का कहना है कि उसने उनको अविवाहित होने के बारे में बताया भी था, लेकिन चिकित्साकर्मियों ने अनसुना कर दिया.

अशफाक ने बताया कि वह अनपढ़ है. उसे 3 हजार रुपए का चैक दिया, लेकिन उसका बैंक में खाता ही नहीं है. बाद में उसने पूरे घटनाक्रम की जानकारी परिजनों को दी. पीड़ित के भाई ने भी चिकित्साकर्मियों पर धोखे से नसबंदी करने का आरोप लगाया है.



उपमुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. सीताराम मीणा का कहना कि उन्हें इस मामले की कोई जानकारी नहीं है. ऐसा हो नहीं सकता की अविवाहित युवक की नसबंदी कर दी हो. मीणा का कहना कि मामले की जांच करवाता हूं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading