बाड़मेर: पंचायत चुनाव में बांटने के लिए लाई गई 60 लाख रुपए की शराब जब्त
Barmer News in Hindi

बाड़मेर: पंचायत चुनाव में बांटने के लिए लाई गई 60 लाख रुपए की शराब जब्त
बरामद की गई शराब पंजाब निर्मित है.

बाड़मेर (Barmer) आबकारी विभाग (Excise Department) ने बड़ी कार्रवाई करते हुए अवैध शराब (Illegal liquor) से भरा एक कंटेनर पकड़ा है. पंजाब निर्मित (Punjab made) यह शराब पंचायत चुनाव (Panchayat Election) में मतदाताओं को बांटने (Distribute) के लिए लाई गई बताई जा रही है.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
बाड़मेर. आबकारी विभाग (Excise Department) ने बड़ी कार्रवाई करते हुए अवैध शराब (Illegal liquor) से भरा एक कंटेनर पकड़ा है. पंजाब निर्मित (Punjab made) यह शराब पंचायत चुनाव (Panchayat Election) में मतदाताओं को बांटने (Distribute) के लिए लाई गई बताई जा रही है. जब्त की गई शराब का बाजार मूल्य करीब 60 लाख रुपए है. आबकारी विभाग ने इस मामले में ट्रक चालक को गिरफ्तार (Arrested) किया है. उससे पूछताछ (Inquiry) की जा रही है.

मतदाताओं को लुभाने के लिए शराब बांटने से भी गुरेज नहीं
पंचायत चुनाव में कई प्रत्याशी मतदाताओं को लुभाने के लिए शराब बांटने से भी गुरेज नहीं कर रहे हैं. इसके लिए बाहर से सस्ती शराब मंगवाई जा रही है. पंचायत चुनाव के मद्देनजर अवैध शराब की तस्करी पर पुलिस और आबकारी विभाग पैनी निगाह बनाए हुए है और इसके खिलाफ अभियान छेड़ रखा है. बाड़मेर आबकारी विभाग को शुक्रवार को मामले में बड़ी सफलता मिली है.

मूंगड़ा चौराहे पर नाकाबंदी कर पकड़ा कंटेनर



जिला आबकारी अधिकारी संजयसिंह दुलर ने बताया कि मुखबीर से मिली सूचना के आधार पर बालोतरा आबकारी और बाड़मेर आबकारी टीम ने बालोतरा में मूंगड़ा चौराहे पर नाकाबंदी कर एक संदिग्ध कंटेनर को रुकवाकर उसकी तलाशी ली. पूरा कंटेनर शराब के कर्टनों से भरा हुआ मिला. इस पर टीमों ने कंटेनर को जब्त कर चालक भगवाना राम विश्नोई को गिरफ्तार कर लिया. भगवानाराम बाड़मेर जिले के धोरीमन्ना पुलिस थाना इलाके का रहने वाला है.



पंजाब निर्मित है बरामद की गई शराब
जिला आबकारी अधिकारी के अनुसार बरामद की गई शराब पंजाब निर्मित है. प्रथमदृष्टया यह शराब आगामी पंचायती चुनाव के चलते लाई जा रही थी. फिलहाल आरोपी से पूछताछ जारी है और तथ्यों की जानकारी जुटाई जा रही है. पकड़ी गई शराब की अनुमानित लागत करीब 60 लाख रुपए है.

 

चुनाव के लिए शराब का स्टॉक करने में जुटे हैं
उल्लेखनीय है कि प्रदेश में इस माह तीन चरणों में पंचायत चुनाव होने हैं. प्रथम चरण के चुनाव 17 जनवरी को होने हैं. उसके बाद दूसरे चरण के 22 जनवरी और तीसरे चरण के लिए 29 जनवरी को मतदान होना है. इसके लिए चुनाव लड़ रहे कई प्रत्याशी मतदाताओं को लुभाने के लिए शराब का स्टॉक करने में जुटे हैं. इसके लिए सीमावर्ती पंजाब और हरियाणा राज्य से अवैध अंग्रेजी शराब को मंगवाई जा रही है.

 

CM अशोक गहलोत का बड़ा फैसला, राजस्थान के शहरों में गली-गली नहीं खुलेंगे बार

रेप करने में सफल नहीं हुआ तो लड़की को गला घोंटकर मार डाला, शव नाले में फेंका
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading