अच्छी खबरः ऑक्सीजन सप्लाई की चेन बनाने बाड़मेर का योगदान याद रखेगा हिन्दुस्तान

ये टैंकर बाड़मेर में तेल, गैस एवं कोल कंपनियों की अलग अलग जगह काम में लगे हुए थे.

ये टैंकर बाड़मेर में तेल, गैस एवं कोल कंपनियों की अलग अलग जगह काम में लगे हुए थे.

Oxygen supply : बाड़मेर जिला प्रशासन ने जिले में कार्यरत विभिन्न कंपनियों के 13 ऑक्सीजन टैंकर्स को अधिग्रहित कर उन्हें तुरंत प्रभाव से आपदा की इस घड़ी में राहत के कार्य में लगा दिया है.

  • Share this:
बाड़मेर. बढ़ते कोरोना संक्रमण (Corona infection) के कारण देशभर में ऑक्सीजन (Oxygen) की मांग बढ़ी हुई है. मौजूदा समय में राजस्थान सरकार के पास ऑक्सीजन के अलावा इसे परिवहन करने वाले टैंकर्स का भी टोटा है. ऐसे माहौल में भारत-पाकिस्तान की सरहद पर बसे बाड़मेर (Barmer) जिले से सुखद खबर आई है. बाड़मेर के जनप्रतनिधियों और जिला प्रशासन ने लंबी मंत्रणा के बाद जिले में कार्यरत विभिन्न कंपनियों के 13 ऑक्सीजन टैंकर्स (Tankers) को इसके परिवहन के लिये अधिग्रहित कर लिया है.

बाड़मेर जिला प्रशासन ने 13 ऑक्सीजन टैंकर अधिग्रहित कर लिए हैं. जिले की विभिन्न अलग अलग कम्पनियों में कार्य कर रहे इन टैंकर्स का अधिग्रहण राज्य के राजस्व मंत्री हरीश चौधरी तथा बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन और जिला प्रशासन की लंबी मंत्रणा के बाद किया गया है. अब बाड़मेर से ये टैंकर राज्य के अलग-अलग जिलों में ऑक्सीजन के अभाव में दम तोड़ रहे मरीजों के लिये संजीवनी लाने और ले जाने के काम आयेंगे.

Youtube Video


ट्रांसपोर्ट चेन को बनाने में बाड़मेर जिले का अहम योगदान
राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने बताया कि सरहदी बाड़मेर में ऑक्सीजन के परिवहन के लिए जिला प्रशासन और जन प्रतिनिधियों के प्रयासों से 13 ऑक्सीजन टैंकर्स की व्यवस्था की गई है। अभी तक जिले को ऑक्सीजन के क्षेत्र में बाहर से मदद मिल रही थी. वहीं अब ये 13 टैंकर्स ऑक्सीजन ट्रांसपोर्ट में मददगार साबित होंगे. उन्होनें बताया कि ऑक्सीजन ट्रांसपोर्ट चेन को बनाने में बाड़मेर जिले का अहम् योगदान होगा.

अन्य जिलों को भी भेजी जा सकेगी प्राणवायु

चौधरी ने बताया कि इसके साथ ही आने वाले समय में टैंकर्स की तादाद बढ़ाने के लिए हर संभव प्रयास किए जाएंगे. जिले में पचपदरा स्थित तीन ऑक्सीजन प्लांट्स में जल्द ही प्रतिदिन तीन हजार सिलेंडर का उत्पादन शुरू हो जायेगा. इससे न केवल जिले की ऑक्सीजन की आपूर्ति पूरी हो सकेगी बल्कि अन्य जिलों को भी प्राणदायी वायु भेजी जा सकेगी.




बाड़मेर से देर रात रवाना किये गये ऑक्सीजन टैंकर्स

बाड़मेर जिला प्रशासन ने मंगलवार को देर रात इन टैंकरों को ऑक्सीजन परिवहन के लिए रवाना किया. बाड़मेर जिला कलेक्टर लोकबंधु यादव के मुताबिक कोरोना के विकट हालातो में राज्य ही नहीं देश के लिए बाड़मेर का यह सबसे बड़ा योगदान है. बाड़मेर जिला 13 ऑक्सीजन टैंकर जनहित को समर्पित कर रहा है. ये टैंकर बाड़मेर में तेल, गैस एवं कोल कंपनियों की अलग अलग जगह काम में लगे हुए थे. इन्हें तुरंत प्रभाव से अधिग्रहित कर आपदा की इस घड़ी में राहत के कार्य में लगा दिया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज