लाइव टीवी
Elec-widget

बाड़मेर: प्रेमी युगल ने लगाया मौत को गले, गांव के हौद में मिले दोनों के शव

Premdan Detha | News18 Rajasthan
Updated: November 14, 2019, 4:57 PM IST
बाड़मेर: प्रेमी युगल ने लगाया मौत को गले, गांव के हौद में मिले दोनों के शव
प्रारंभिक जांच में सामने आया कि ये दोनों बुधवार को सुबह से लापता थे. परिजन उनको ढूंढते घूम रहे थे.

रेतीले धोरों की धरती बाड़मेर जिले (Barmer District) में सामूहिक आत्महत्या (Mass suicide) का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. जिले के समदड़ी (Samdari ) थाना इलाके में फिर एक प्रेमी युगल (lover couple) ने पानी के हौद (टांके) में कूदकर आत्महत्या कर ली.

  • Share this:
बाड़मेर. रेतीले धोरों की धरती बाड़मेर जिले (Barmer District) में सामूहिक आत्महत्या (Mass suicide) का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. जिले के समदड़ी (Samdari ) थाना इलाके में फिर एक प्रेमी युगल (lover couple) ने पानी के हौद (टांके) में कूदकर आत्महत्या कर ली. हौद में शव (Dead bodies) पड़े देखकर ग्रामीणों के होश उड़ गए. पुलिस (Police) ने शवों को बाहर निकलवाया. बाद में पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिए.

रानीदेशीपुरा गांव की घटना
जानकारी के अनुसार घटना रानीदेशीपुरा गांव की बताई जा रही है. गांव के सार्वजनिक हौद में बुधवार शाम को एक युवक और युवती के शव पड़े मिले. हौद में शव देखकर गांव में सनसनी फैल गई. ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस को दी. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों के शवों को बाहर निकलवाया. युवक की शिनाख्त हुकमाराम (19) निवासी स्वरूपरा और युवती की चन्द्रा (19) निवासी रानीदेशीपुरा के रूप में हुई.

सुबह से लापता थे दोनों

पुलिस की प्रारंभिक जांच में सामने आया कि ये दोनों बुधवार को सुबह से लापता थे. परिजन उनको ढूंढते घूम रहे थे. इसी दौरान शाम को लड़की की मां को रानीदेशीपुरा गांव के हौद पर मोबाइल और कपड़े पड़े मिले. उसने हौद में झांककर देखा तो उसमें बेटी और एक युवक के शव तैरते नजर आए. इस पर उसने ग्रामीणों को सूचना दी. प्रथम दृश्टया माना जा रहा है कि प्रेम प्रसंग के चलते दोनों ने हौद में कूदकर आत्महत्या की है. पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है.

बाड़मेर में आत्महत्या के आंकड़े डराने वाले हैं
उल्लेखनीय है कि बाड़मेर जिले में आत्महत्या के आंकड़े डराने वाले हैं. यहां हर तीसरे दिन एक व्यक्ति खुद मौत को गले लगा रहा है. जिले में आत्महत्या के मामले बेहताशा बढ़ते जा रहे हैं. वर्ष 2016 से 15 जुलाई, 2019 तक की समय अवधि में करीब 484 लोगों ने अलग अलग तरीकों से आत्महत्या कर मौत को गले लगा लिया. इनमें प्रेमी जोड़ों और सामूहिक आत्महत्याओं का आंकड़ा भी काफी बड़ा है.
Loading...

बाड़मेर में बारिश और ओलावृष्टि ने बरपाया कहर, स्कूलों में अवकाश घोषित

प्रदेश के उत्कृष्ट खिलाड़ियों को मिलेगी सरकारी नौकरी, कैबिनेट ने दी मंजूरी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बाड़मेर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 14, 2019, 4:52 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...