Home /News /rajasthan /

बाड़मेर में सरकारी जमीन पर कब्‍जा, मौका मुआयना करने पहुंचे कलेक्‍टर

बाड़मेर में सरकारी जमीन पर कब्‍जा, मौका मुआयना करने पहुंचे कलेक्‍टर

बाड़मेर शहर के हिंगलाज मंदिर के पास स्थित सरकारी खसरा नंबर 1468 का मौका मुआवना जिला कलेक्‍टर ने किया.

बाड़मेर शहर के हिंगलाज मंदिर के पास स्थित सरकारी खसरा नंबर 1468 का मौका मुआवना जिला कलेक्‍टर ने किया.

बाड़मेर शहर के हिंगलाज मंदिर के पास स्थित सरकारी खसरा नंबर 1468 का मौका मुआवना जिला कलेक्‍टर ने किया.

    बाड़मेर शहर के हिंगलाज मंदिर के पास स्थित सरकारी खसरा नंबर 1468 का मौका मुआवना जिला कलेक्‍टर ने किया.

    नगर परिषद की ओर से पट्टे जारी करने के मामले को गंभीरता से लेते हुए जिला कलेक्टर मधुसूदन शर्मा ने शुक्रवार को दौरा किया. शहर के हिंगलाज मंदिर के पास खसरा नंबर 1468 नगर परिषद बाड़मेर के खाते में दर्ज हैं, जिस पर सालो से सरकारी कर्मचारी ने अतिक्रमण कर रखा हैं. जबकि वर्ष 1992 में जमीन खालसा घोषित कर नगर परिषद के खाते में दर्ज की गई. इसके बावजूद बाड़मेर तहसीलदार ने 2013 तक काश्त कब्जा भी दिखा दिया.

    अतिक्रमी ने चारदीवारी और ट्यूबवैल बनाकर कृषि भी शुरू कर दी हैं. जबकी यह मामला कोर्ट में चला था और हाई कोर्ट के फैसले में इस जमीन को नगर परिषद की मानी है.

    वर्ष 2014 में नगर परिषद की मिलीभगत से अतिक्रमी ने इस जमीन के करीब 44 प्लॉट के पट्टे भी जारी कर दिए. जब यह मामला उजागर हुआ तो  धांधली करने वाले कार्मिकों ने नगर परिषद से मूल पत्रावलियां भी गायब कर दी.

    सांसद की शिकायत  बाद जिला ने इस मामले को गंभीरता से लेते एसडीएम को इस भूखंड के पट्टे निरस्त करने के आदेश दिए और इस मामले में जो भी अधिकारी दोषी है उनके खिलाफ कार्यवाही की जायेगी. गौरतलब है की इस मामले में प्रशासन को इस बात की परेशानी आ सकती है की कोई भी नगरपालिका का पट्टा पंजीयन होने के बाद सिविल न्यायालय के अलावा पट्टे ख़ारिज नहीं हो सकते. देखने वाली बात होगी कि क्या अब बाड़मेर का प्रशासन इस मामले को लेकर न्यायालय की शरण लेगा.

    Tags: बाड़मेर

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर