Home /News /rajasthan /

'नोटबंदी से महिलाओं को उठाना पड़ा सबसे ज्यादा नुकसान'

'नोटबंदी से महिलाओं को उठाना पड़ा सबसे ज्यादा नुकसान'

फोटो-(ईटीवी)

फोटो-(ईटीवी)

कांग्रेस ने नोटबंदी का विरोध तेज कर दिया है. प्रदेश कांग्रेस के आह्वान पर सोमवार को बाड़मेर जिला कलक्ट्रेट के सामने महिला कांग्रेस ने थाली बजाकर प्रदर्शन किया.

कांग्रेस ने नोटबंदी का विरोध तेज कर दिया है. प्रदेश कांग्रेस के आह्वान पर सोमवार को बाड़मेर जिला कलक्ट्रेट के सामने महिला कांग्रेस ने थाली बजाकर प्रदर्शन किया.

कांग्रेस महिला मोर्चा अध्यक्ष मृदुरेखा चौधरी और बाड़मेर विधायक मेवाराम जैन, बाड़मेर जिला प्रमुख प्रियंका मेघवाल, पूर्व प्रधान शम्मा खान के नेतृत्व में महिला कांग्रेस कार्यकर्ता हाथ में थालियां लेकर बजाते हुए कलक्ट्रेट पहुंचीं और प्रदर्शन किया.

जिला महिला कांग्रेस अध्यक्ष मृदुरेखा चौधरी ने कहा कि सरकार ने नोटबंदी की समस्या के लिए 50 दिन का समय मांगा था लेकिन, आज तक कुछ भी सही नहीं हुआ है.

इस मौके पर पूर्व मंत्री अमीन खान ने कहा कि देश-प्रदेश और गांव में लोग बेरोजगार हो गए हैं. सबसे ज्यादा नुकसान महिलाओं को उठाना पड़ा है, जिसने पाई-पाई बचाकर रखी थी. उस पाई-पाई को भी लेना दूभर हो गया है. इस निर्णय से नाराज महिलाओं ने सोमवार को कलक्ट्रेट पर थाली बजाकर सरकार को जगाने का काम किया है.

सरकार को इस गलत फैसले के लिए जनता और महिलाओं से माफी मांगनी चाहिए. इस विषय को लेकर महिला कांग्रेस ने प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा और कांग्रेस उपाध्यक्ष द्वारा पूछे गए पांच सवालों के जवाब मांगे हैं. इस आयोजन में मुकेश जैन, उदाराम मेघवाल, दिनेश कुलदीप, निरामई चौधरी समेत सैकड़ों की तादात में कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद रहे.

Tags: Barmer news, BJP, Congress, Rajasthan news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर