राजस्थान: बाड़मेर में सड़क के डिवाइडर पर लगी रैलिंग में दौड़ा करंट, 1 युवक की मौत, बवाल मचा

मृतक के परिजनों का आरोप है कि बाड़मेर शहर में जगह-जगह बिजली के पोल और ट्रांसफार्मर के पास तार खुले पड़े रहते हैं. नगरपरिषद और डिस्कॉम की लापरवाही के कारण युवक की जान गई है.

Big accident in Barmer: बाड़मेर शहर में रोड के डिवाइडर पर लगी लोहे की रैलिंग में करंट आ जाने से एक युवक की मौत हो गई. उसके बाद इस मामले को लेकर बवाल मच गया है. मृतक के परिजनों और समाज के लोगों ने शव उठाने से इनकार कर दिया है.

  • Share this:
बाड़मेर. थार नगरी बाड़मेर शहर (Barmer city) के अहिंसा सर्किल के पास डिवाइडर की रेलिंग में आये बिजली के करंट (Electric current) की चपेट में आने से एक युवक की मौत हो गई. सूचना मिलने पर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और शव को जिला अस्पताल स्थित मोर्चरी में रखवाया है. लेकिन उसके बाद अब यह मामला तूल पकड़ गया है.

मृतक युवक के परिजनों के साथ वाल्मीकि समाज के सैकड़ों लोग अस्पताल में मोर्चरी के आगे धरने पर बैठ गए हैं. उन्होंने इस मामले में नगर परिषद और विद्युत विभाग पर लापरवाही तथा अनदेखी का आरोप लगाया है. उन्होंने मामले की उच्च स्तरीय जांच और लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग को लेकर शव का पोस्टमार्टम करवाने तथा उसे उठाने से साफ इंकार कर दिया है.

सोमवार रात को हुआ था हादसा
जानकारी के अनुसार बाड़मेर जिला मुख्यालय पर सोमवार रात करीब नौ बजे राजेश पुत्र नंदलाल वाल्मिकी निवासी रेलवे कुंआ नंबर 3 अहिंसा सर्किल स्थित एक होटल से खाना लेकर घर लौट रहा था. इस दौरान अहिंसा सर्किल के पास डिवाइडर पर लगी रेलिंग को स्पर्श करते ही वह करंट की चपेट में आ गया. करंट से झुलसने पर लोगों ने उसे जिला अस्पताल पहुंचाया. वहां पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया.



आरोप नगरपरिषद और डिस्कॉम की लापरवाही है यह
मंगलवार को सुबह मृतक के परिजनों के साथ सैकड़ों लोगों ने राजकीय अस्पताल की मोर्चरी के आगें विभिन्न मांगों को लेकर धरना शुरू कर दिया. मृतक के परिजनों का आरोप है कि बाड़मेर शहर में जगह-जगह बिजली के पोल और ट्रांसफार्मर के पास तार खुले पड़े रहते हैं. नगरपरिषद और डिस्कॉम की लापरवाही के कारण युवक की जान गई है.

नगरपरिषद सभापति से बेनतीजा रही बातचीत
धरने पर बैठे लोगों से समझाइश करने के लिये नगर परिषद सभापति दिलीप माली भी पहुंचे लेकिन बातचीत बेनतीजा ही रही. बहरहाल परिजनों ने शव का पोस्टमार्टम करवाने और शव उठाने से साफ इंकार करते हुए मामले की उच्च स्तरीय जांच और लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ तत्काल कार्रवाई की मांग की है. पुलिस प्रशासन अभी बातचीत के लिये प्रयासरत है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.