Home /News /rajasthan /

कांग्रेस पार्टी में बाड़मेर जिले में नहीं चल रहा सब कुछ ठीक

कांग्रेस पार्टी में बाड़मेर जिले में नहीं चल रहा सब कुछ ठीक

बाड़मेर जिले में कांग्रेस पार्टी में सब कुछ सही नहीं चल रहा है. बाड़मेर के जाट नेता हेमाराम चौधरी कांग्रेस पार्टी के कार्यक्रमों से नदारद नजर आ रहे हैं.

बाड़मेर जिले में कांग्रेस पार्टी में सब कुछ सही नहीं चल रहा है. बाड़मेर के जाट नेता हेमाराम चौधरी कांग्रेस पार्टी के कार्यक्रमों से नदारद नजर आ रहे हैं.

बाड़मेर जिले में कांग्रेस पार्टी में सब कुछ सही नहीं चल रहा है. बाड़मेर के जाट नेता हेमाराम चौधरी कांग्रेस पार्टी के कार्यक्रमों से नदारद नजर आ रहे हैं.

राजस्थान में कांग्रेस विधानसभा चुनाव जीतने के बाद लोकसभा चुनाव फतह करने की तैयारी कर रही है लेकिन बाड़मेर जिले में कांग्रेस में सब कुछ सही नहीं चल रहा है . ऐसा इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि बाड़मेर के कद्दावर जाट नेता हेमाराम चौधरी इन दिनों कांग्रेस और उसके कार्यक्रमों से नदारद नजर आ रहे हैं. गुडामालानी से विधायक का चुनाव जीतने के बाद अभी तक हेमाराम चौधरी बाड़मेर जिला मुख्यालय के कार्यक्रम सहित प्रदेश कांग्रेस के एक भी कार्यक्रम में नजर नहीं आए.

गौरतलब है कि जब मंत्रिमंडल का गठन हुआ था उसी वक्त हेमाराम चौधरी की नाराजगी साफ तौर पर सामने आई थी और उस दौरान हेमाराम समर्थकों ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट से भी मुलाकात की थी. ऐसे दो तीन वाकये हो गए जिससे यह लग रहा है कि हेमाराम चौधरी पार्टी से खफा चल रहे हैं क्योंकि उन्हें मंत्री नहीं बनाया गया. सबसे पहले जब राजस्व मंत्री बनने के बाद हरीश चौधरी का बाड़मेर जिला मुख्यालय पर प्रोग्राम रखा गया तो उसमें भी हेमाराम चौधरी कहीं पर भी नजर नहीं आए. उसके बाद  लोकसभा चुनावों की रायशुमारी के लिए कैबिनेट मंत्री बाड़मेर पहुंचे तो भी हेमाराम चौधरी नजर नहीं आए. जब इन सब चीजों को लेकर कैबिनेट बी.डी. कल्ला से पूछा गया तो उनका उनका कहना था कि हेमाराम चौधरी अपने निजी कारणों से नहीं आए.

वइस पूरे मामले को लेकर राजस्व मंत्री हरीश चौधरी का कहना है कि इस तरीके की नाराजगी की खबर मीडिया की उपज है. हेमाराम चौधरी पार्टी से नाराज नहीं हैंं लेकिन हकीकत तो यह  है कि हरीश चौधरी के राजस्व मंत्री बनने के बाद आयोजित स्वागत समारोह में भी हेमाराम चौधरी एक बार भी नजर नहीं आए.

हेमाराम चौधरी अपने विधानसभा क्षेत्र रगुडामालानी में लगातार दौरे कर रहे हैं लेकिन पार्टी की गतिविधियों से दूर नजर आ रहे हैं. ऐसे में सवाल उठता है कि हेमाराम चौधरी की नाराजगी कही कांग्रेस को लोकसभा चुनाव में भारी न पड़ जाए.

ये भी पढ़ें-  VIDEO- राजस्थान में कांग्रेस ने बांटे पैसे, देखें ये वीडियो 
चौहटन विधायक तरुणराय कागा ने छोड़ी बीजेपी, सक्रिय राजनीति से लिया संन्यास

Tags: Barmer news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर