होम /न्यूज /राजस्थान /Barmer : 25 हजार की नौकरी छोड़ खुद की कंपनी खोली, अब 40 हजार को रोजगार दे रहा यह शख्स

Barmer : 25 हजार की नौकरी छोड़ खुद की कंपनी खोली, अब 40 हजार को रोजगार दे रहा यह शख्स

कभी किसी संस्था और कार्यालय में नौकरी करने वाले एक युवा ने हौसला दिखाया और आज वह खुद की कंपनी बनाकर हज़ारों महिलाओं को र ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट – मनमोहन सेजू

बाड़मेर. कहते हैं सफलता किसी उम्र की मोहताज नहीं होती. हौसला और कुछ नया कर गुज़रने का जुनून होना चाहिए. ऐसा ही कुछ कर दिखाया है बाड़मेर के महाबार निवासी केवलाराम मेघवाल ने. महज़ 15 साल की उम्र में हस्तशिल्प कला का काम शुरू किया. करीब 15 साल तक अन्य कंपनियों में 25 हजार रुपये प्रतिमाह तक की नौकरियां करने के बाद उन्होंने एक बड़ा कदम उठाया. 2017 में महिला स्वयं सहायता समूह के साथ हाथों के हुनर का काम शुरू किया. इस आत्मनिर्भर सोच का नतीजा यह हुआ कि आज 40,000 महिलाओं को इससे रोज़गार मिल रहा है और देश-दुनिया तक यह हुनर भी पहुंच रहा है.

सविना हस्तकला की शुरुआती तकलीफों के बाद केवलाराम ने बाड़मेर ज़िले के छोटे-छोटे गांवों में जाकर महिलाओं के समूह बनाए और उन्हें रोज़गार के लिए प्रेरित किया. अब वह 50 से 60 गांवों में महिलाओं को कच्चा माल देते हैं और उनके काम को बाज़ार मुहैया करवाते हैं. ये महिलाएं एपलीक, एंब्रायडरी, कांता कटाई जैसी हस्तकलाओं के प्रोडक्ट तैयार करती हैं. केवलाराम बताते हैं कि कंपनी को खोले हुए करीब 5 साल हो गए हैं और सालाना टर्नओवर करीब 50 लाख रुपये हो चुका है.

तीस हजार से ज्यादा आर्टीजन कार्ड का रिकॉर्ड

जिला उद्योग केंद्र की तरफ से महिलाओं को दस्तकारी में आत्मनिर्भर बनाने के लिए 40 दिन की ट्रेनिंग दी जाती है. उसके बाद यह कार्ड बनाया जाता है. कार्ड मिलने के बाद कोई भी महिला स्वरोज़गार शुरू कर सकती है. केवलाराम तीस हजार से ज्यादा महिलाओं के आर्टीजन कार्ड बनाने का रिकॉर्ड कायम कर चुके हैं. बाड़मेर के पांच ब्लॉक में 200 से ज्यादा महिलाओं को सिलाई के लिए सिलाई मशीन भी दे चुके हैं.

दस्तकार सुआ देवी और गोपी बताती हैं कि पहले घर का काम ही करते थे लेकिन जबसे हाथों के इस हुनर से रूबरू हुए हैं, तबसे न केवल आमदनी हो रही है बल्कि लोगों के बीच पहचान भी मिली है. केवलाराम बताते हैं कि हज़ारों महिलाओ को जोधपुर, जयपुर, दिल्ली और मुंबई तक मंच प्रदान कर चुके हैं. वहीं अब हस्तशिल्प को नई तकनीक और नए डिज़ाइन से भी जोड़ा जा रहा है.

Tags: Barmer news, Success Story

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें