Barmer News: बाड़मेर में SDM ने 10 हजार की रिश्वत लेकर ड्राइवर को थमाई, ACB ने रंगे हाथों गिरफ्तार किया

बाड़मेर जिले की गुड़ामालानी तहसील के SDM सुनील कटेवा और उनके ड्राइवर दुर्गाराम को ACB ने 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया है.

बाड़मेर जिले की गुड़ामालानी तहसील के SDM सुनील कटेवा और उनके ड्राइवर दुर्गाराम को ACB ने 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया है.

बाड़मेर जिले की गुड़ामालानी तहसील के SDM सुनील कटेवा और उनके ड्राइवर दुर्गाराम को ACB ने 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया है. SDM ने एक मामले में स्टे देने के लिए 10 हजार की रिश्वत मांगी थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 5, 2021, 2:22 PM IST
  • Share this:
बाड़मेर. भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB) ने शुक्रवार सुबह सरहदी बाड़मेर जिले की गुड़ामालानी के SDM को उनके ड्राइवर सहित 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया. एसीबी जोधपुर की स्पेशल टीम ने उसे ट्रैप किया. SDM सुनील कटेवा ने यह राशि एक मामले में स्टे प्रदान करने की एवज में ली थी. अपने कार्यालय में रिश्वत की राशि लेकर SDM ने ड्राइवर को थमा दी थी, तभी ACB की टीम ने उन्हें पकड़ लिया. जोधपुर एसीबी की एक पखवाड़े में तीसरी बड़ी कार्रवाई है, जिसमें तीन अधिकारी एसीबी की गिरफ्त में आए हैं.

ACB के एडिशनल एसपी दुर्ग सिंह राजपुरोहित के मुताबिक, परिवादी एडवोकेट पप्पू राम व सह परिवादी पोपट राम के साथ जोधपुर में पेश हुआ था, उन्होंने शिकायत की थी कि परिवादी से जमीन में स्टे देने के लिए एसडीएम ने 10 हजार की रिश्वत मांगी थी. जिसका सत्यापन करवाने के बाद आज सुबह ट्रैप का आयोजन कर पप्पूराम को एसडीएम के पास भेजा गया. एसडीएम ने पप्पूराम से अपने कक्ष में 10 हजार रुपए लेकर उसे अपने ड्राइवर दुर्गाराम को सौंप दिए. दुर्गाराम यह राशि ले गया और अपने वाहन के अगले डेस्क बोर्ड पर रख दिए. इसके बाद हमने दोनों आरोपियों को पकड़ लिया है. एसडीम कटेवा ने खुद को बचाने के लिए रिश्वत लेने के बाद फौरन अपने ड्राइवर को वह राशि दे दी थी. एसीबी ने ड्राइवर को भी गिरफ्तार कर लिया है.

Youtube Video


वही एसीबी द्वारा आरोपी एसडीम से पूछताछ की जा रही है. आपको बता दे कि जोधपुर एसीबी ने 23 जनवरी को कार्यवाही करते हुए RGT थानाधिकारी महेंद्र कुमार को 15 हजार की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों ट्रैप किया था. उसके महज 4 दिन बाद 27 जनवरी को जालोर ACB ने कार्यवाही करते हुए सिवाना के कार्यवाहक तहसीलदार बाबूसिंह राजपुरोहित को 10 हजार की रिश्वत लेते हुए ट्रैप किया था. इसके बाद जोधपुर एसीबी ने आज बड़ी कार्रवाई की. बाड़मेर में भ्रष्ट अधिकारियों पर एसीबी द्वारा लगातार शिकंजा कसा जा रहा है. इसके कार्रवाई के बाद क्षेत्र के अफसरों में हड़कंप है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज