Home /News /rajasthan /

kinnar babita created history built shiva temple at cost of 50 lakhs rupees in barmer 40 year old dream fulfilled rjsr

किन्नर बबीता ने 50 लाख की लागत से बनवाया शिव मंदिर, पूरा किया 40 साल पुराना सपना

बबीता इससे पहले माता हिंगलाज शक्ति पीठ के लिए पांच लाख के गहनों समेत माता रानी भटियानी और मजीसा के दो मंदिरों में भी गहने भेंट कर चुकी हैं.

बबीता इससे पहले माता हिंगलाज शक्ति पीठ के लिए पांच लाख के गहनों समेत माता रानी भटियानी और मजीसा के दो मंदिरों में भी गहने भेंट कर चुकी हैं.

Barmer Latest News: बाड़मेर में किन्नर बबीता बहन (Kinnar Babita Bahan) ने अपनी जमा पूंजी से 50 लाख रुपये की लागत से भव्य शिव मंदिर (Grand shiva temple) बनवाकर अपना 40 साल पुराना सपना साकार कर लिया. मंदिर में भगवान शिव, पार्वती, गणेश और नंदी की भव्य मूर्तियों की प्राण प्रतिष्ठा का आयोजन वैदिक रीति-रिवाज और मंत्रोचार के साथ हुआ. इस दौरान भारी संख्या में श्रद्धालु उमड़े. अभी जहां मंदिर बना है, वहां बरसों पहले केवल बबूल की झाड़ियों का जंगल हुआ करता था. बबीता बहन ने बाड़मेर आने पर यह संकल्प लिया था कि जब कभी भी उनके पास पैसा होगा तो वह मंदिर जरूर बनवाएंगी. और अब उनकी वर्षों पुरानी इच्छा पूरी हो गई. किन्नर समुदाय की गादीपति बबीता इससे पहले राम मंदिर निर्माण के लिये भी पांच लाख रुपये की सहयोग राशि भेंट कर चुकी हैं.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

बबीता राम मंदिर निर्माण के लिए भी 5 लाख की राशि भेंट कर चुकी हैं
कोरोना काल में भी बबीता ने आमजन का बढ़ चढ़कर सहयोग किया था

बाड़मेर. कई दफा कुछ लोग ऐसा काम कर जाते हैं कि वे दूसरों के लिये मिसाल बन जाते हैं. ऐसा ही एक कार्य भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर स्थित बाड़मेर जिले में हुआ है. यहां एक किन्नर ने अपनी जमा पूंजी से भव्य शिव मंदिर (Grand shiva temple) का निर्माण करवाया है. किन्नर समुदाय की गादीपति बबीता बहन (Shemale Babita Bahan) ने 50 लाख रुपये की लागत से शिव मंदिर का निर्माण करवाया है. मंदिर में भगवान शिव, पार्वती, गणेश और नंदी की भव्य मूर्तियों की प्राण प्रतिष्ठा का आयोजन किया गया. रविवार को वैदिक रितिरिवाज और मंत्रोचार के साथ मूर्तियों की प्राण प्रतिष्ठा का समारोह आयोजित किया गया तो उसमें जनसैलाब उमड़ पड़ा.

बाड़मेर में रविवार का दिन एक अनूठे आयोजन के कारण आम से खास बन गया. बाड़मेर के किन्नर समुदाय की गादीपति बबीता बहन ने जिला मुख्यालय पर 50 लाख रुपये की लागत से शिव मंदिर का निर्माण करवाया है. अभी जहां मंदिर बना है वहां बरसों पहले केवल बबूल की झाड़ियों का जंगल हुआ करता था. बबीता बहन ने बाड़मेर आने पर यह संकल्प लिया था कि जब कभी भी उनके पास पैसा होगा तो वह मंदिर जरूर बनाएगी. बबीता बहन ने अपनी गुरु तारा बाई के समाज सेवा के नक्शे कदम पर चलते हुए लोगों के साथ ना केवल अपना स्नेह बनाए रखा बल्कि अपने सपने को भी साकार कर दिखाया. उनके पड़ोसी बताते हैं कि बबीता बहन में अपनापन बेमिसाल है. वे बीते चालीस साल से सभी से स्नेह बनाये हुये हैं.

राम मंदिर निर्माण के लिए भी 5 लाख की राशि भेंट कर चुकी हैं
होली-दीपावली हो या फिर किसी के घर में नए सदस्य का आगमन. बबीता बहन ने गाने बजाने और दुआए देकर पाई-पाई जोड़ी और इस मंदिर का निर्माण करवाया।. ऐसा नही है की बबिता बहन ने मंदिर और धर्म कर्म की तरफ पहला कदम बढ़ाया हो. बबीता बहन इससे पहले राम मंदिर निर्माण के लिए भी पांच लाख की सहयोग राशि भेंट कर चुकी हैं.

सपना साकार हुआ तो आंखों में आये आंसू
माता हिंगलाज शक्ति पीठ के लिए पांच लाख के गहनों समेत माता रानी भटियानी और मजीसा के दो मंदिरों में भी गहने भेंट कर चुकी हैं. कोरोना के विकट हालात में भी बबिता बहन ने लोगों की खूब मदद की थी. अब जब चालीस साल पुराना सपना रविवार को साकार हुआ तो बबीता बहन की आंखों में खुशी के आंसू आ गये.

बबीता बहन ने सभी धारणाओं को तोड़ दिया
देशभर में किन्नर समुदाय के प्रति लोगों की धारणा और नजरिया आमतौर पर बहुत ज्यादा अच्छा नहीं रहता है. लेकिन बबीता बहन ने इन सभी धारणाओं को तोड़ दिया है. बबीता बहन द्वारा धर्म कर्म के लिए बढ़ाया गया यह कदम ना केवल नजीर बन गया है बल्कि लाखों लोगों के लिए यह किसी प्रेरणा से कम नहीं है.

Tags: Barmer news, Rajasthan latest news, Rajasthan news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर