लाइव टीवी

स्थानीय निकाय चुनाव: बाड़मेर विधायक और सभापति की लड़ाई खुलकर सड़क पर आई

Premdan Detha | News18 Rajasthan
Updated: October 15, 2019, 8:00 PM IST
स्थानीय निकाय चुनाव: बाड़मेर विधायक और सभापति की लड़ाई खुलकर सड़क पर आई
विधायक जैन ने भरी सभा में सभी से माफी मांगते हुए कहा कि बोथरा को सभापति बनाकर उन्होंने सबसे बड़ी गलती की.

बाड़मेर (Barmer) में स्थानीय निकाय चुनाव (Local body elections) से पहले बाड़मेर में नगरपरिषद सभापति (Chairman) और विधायक (MLA) के बीच की लड़ाई अब खुलकर (Openly) सामने आ गई है.

  • Share this:
बाड़मेर. स्थानीय निकाय चुनाव (Local body elections) से पहले बाड़मेर में नगरपरिषद सभापति (Chairman) और विधायक (MLA) के बीच की लड़ाई अब खुलकर (Openly) सामने आ गई है. मंगलवार को जिले के प्रभारी मंत्री डॉ. बीडी कल्ला (Dr. BD Kalla) की मौजूदगी में बाड़मेर विधायक ने भरी सभा में माफी मांगकर (By apologizing) कहा कि बोथरा को सभापति बनाना उनकी सबसे बड़ी गलती (Biggest mistake) थी. कांग्रेस की मिटिंग में हुए इस घटनाक्रम के बाद कांग्रेस (Congress) में जबर्दस्त चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है.

पार्टी पदाधिकारियों ने खड़े किए सवाल
प्रभारी मंत्री डॉ. बीडी कल्ला अपने एक दिवसीय दौरे पर मंगलवार को बाड़मेर आए थे. वे स्टेशन रोड स्थित कांग्रेस कार्यालय में नगरपरिषद के चुनावों को लेकर कांग्रेस पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर रहे थे. इस दौरान उन्होंने कांग्रेस के कार्यकर्ताओं से विचार विमर्श कर चुनावों में पार्टी को मजबूत बनाने के आह्वान किया. बैठक में अधिकतर कांग्रेसजनों ने स्थानीय विधायक मेवाराम जैन और नगरपरिषद के सभापति लूणकरण बोथरा के मनमुटाव को लेकर सवाल खड़े किए.

विधायक ने कहा उन्होंने सबसे बड़ी गलती की

इस पर विधायक जैन ने भरी सभा में सभी से माफी मांगते हुए कहा कि बोथरा को सभापति बनाकर उन्होंने सबसे बड़ी गलती की. उन्होंने कहा कि बोथरा शहर के विकास कार्यों में हर बार रोड़ा बने रहे. साथ ही जैन ने कहा कि एक भी पार्षद उनके साथ आने को तैयार नहीं था, लेकिन उन्होंने सबको साथ जोड़ा.



बैठक में छाया रहा मुद्दा
Loading...

बैठक के दौरान कांग्रेस पदाधिकारियों ने चुनावों को लेकर अपनी-अपनी प्रतिक्रिया दी. प्रभारी मंत्री कल्ला ने सभी कार्यकर्ताओं को संगठित रहकर पार्टी को मजबूत बनाने के साथ ही नगरपरिषद में पार्टी का बोर्ड बनाने का लक्ष्य दिया. उल्लेखनीय है कि निकाय चुनाव से ठीक पहले नगरपरिषद आयुक्त को एपीओ किए जाने के बाद सभापति और बाड़मेर विधायक की खींचतान सबके सामने आ गई. प्रभारी मंत्री की बैठक में भी यही मुद्दा छाया रहा. बैठक के दौरान कांग्रेस जिलाध्यक्ष फतेह खान, जिला प्रमुख प्रियंका मेघवाल और यज्ञदत्त जोशी समेत दर्जनों कांग्रेस पदाधिकारी मौजूद रहे.

राजस्थान: जिला परिषद की बैठक में BJP के सदस्य ने कांग्रेस MLA को दिखाया जूता

निकाय चुनाव: 19 अक्टूबर को निकाली जाएगी निकाय प्रमुख और मेयर की लॉटरी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बाड़मेर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 15, 2019, 6:45 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...