लोकसभा चुनाव -2019: मानवेन्द्र सिंह को घेरने के लिए बाड़मेर पहुंचे पीएम मोदी

पश्चिमी राजस्थान में भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पर स्थित बाड़मेर-जैसलमेर लोकसभा सीट इस बार बीजेपी और कांग्रेस दोनों के लिए प्रतिष्ठा का प्रश्न बनी हुई है. आज यहां पीएम मोदी हुंकार भरेंगे.

Premdan Detha | News18 Rajasthan
Updated: April 21, 2019, 5:20 PM IST
लोकसभा चुनाव -2019: मानवेन्द्र सिंह को घेरने के लिए बाड़मेर पहुंचे पीएम मोदी
पीएम नरेन्द्र मोदी। फाइल फोटो।
Premdan Detha | News18 Rajasthan
Updated: April 21, 2019, 5:20 PM IST
पश्चिमी राजस्थान में भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पर स्थित बाड़मेर-जैसलमेर लोकसभा सीट इस बार बीजेपी और कांग्रेस दोनों के लिए प्रतिष्ठा का प्रश्न बनी हुई है. पिछले लोकसभा चुनाव में बतौर निर्दलीय प्रत्याशी शिकस्त खा चुके बीजेपी के संस्थापक सदस्य रहे पूर्व केन्द्रीय मंत्री जसवंत सिंह जसोल के पुत्र मानवेन्द्र सिंह यहां बीजेपी की राह कठिन किए हुए हैं. बीजेपी की इस राह को सरल बनाने के लिए आज यहां पीएम नरेन्द्र मोदी हुंकार भरेंगे. मोदी यहां 4.15 बजे पहुंचेंगे.

आज प्रदेश में गरजेंगे पीएम मोदी, चित्तौड़गढ़-बाड़मेर में संबोधित करेंगे चुनावी सभाएं



BJP प्रत्याशी का आरोप, पाकिस्तान से संचालित किया जा रहा है 'उनका' चुनाव

पिता की हार का बदला लेने के लिए इस बार यहां मानवेन्द्र सिंह कांग्रेस का झंडा थामे हुए चुनाव मैदान में डटे  हैं. पांच साल पहले बीजेपी में पिता के साथ हुए व्यवहार से आहत मानवेन्द्र ने विधानसभा चुनाव-2018 से कुछ समय पहले ही स्वाभिमान रैली कर 'कमल का फूल, हमारी भूल' कहते हुए पिता के सहयोग से खड़ी हुई पार्टी को अलविदा कहकर कांग्रेस का हाथ थाम लिया था. लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखकर उठाए गए इस कदम के बाद सिंह अपनी रणनीति के तहत कांग्रेस का टिकट पाने में सफल हो चुके है. अब बारी है मुकाबले की.

बाड़मेर लोकसभा सीट: सियासी बवंडर के लिए फिर तैयार है थार का यह रेगिस्तान

राजस्व मंत्री हरीश चौधरी बोले, कर्नल सोनाराम को मूल जगह वापस आना चाहिए

प्रदेश में राजनीति का हॉट केक बनी हुई है यह सीटसिंह के इस कदम और मौजूदा सांसद कर्नल सोनाराम चौधरी के प्रति लोगों की नाराजगी को देखते हुए बीजेपी ने यहां उनका टिकट काटकर बायतू के पूर्व विधायक कैलाश चौधरी को चुनाव मैदान में उतारा है. विधानसभा चुनाव-2018 में इस क्षेत्र में शिकस्त खा चुकी बीजेपी अब बेहद संभल-संभल कर चल रही है. प्रदेश के राजनीति के हॉट केक बनी इस लोकसभा सीट को फतह करने के लिए बीजेपी कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाह रही है. लिहाजा प्रदेश में पीएम मोदी की रैलियों की शुरुआत के पहले दिन ही यहां उनकी चुनावी सभा रखी गई है ताकि मजबूत घेराबंदी की जा सके. इसके लिए बीजेपी के तमाम बड़े दिग्गज यहां जुटे हुए हैं.

सीएम गहलोत ने फिर दिखाई सादगी, जोधपुर शहर में टैक्सी में सवार होकर पहुंचे सभा स्थल

लोकसभा चुनाव-2019: बाड़मेर से बसपा प्रत्याशी बर्खास्त IPS पंकज चौधरी का नामांकन खारिज

यह है वर्तमान में यहां की राजनीतिक तस्वीर
2014 के लोकसभा चुनाव के समय लोकसभा क्षेत्र की आठ विधानसभा सीटों  में से सात पर बीजेपी काबिज थी और एक कांग्रेस के खाते में थी. लेकिन आज हालात बिल्कुल अलग हैं. आज यहां कुल आठ विधानसभा सीटों में से सात पर कांग्रेस काबिज है और एक पर बीजेपी.

दुल्हन अपहरण केस- अपहृत दुल्हन और मुख्य आरोपी को लेकर सीकर पहुंची पुलिस

नागौर में NDA को बड़ा झटका, चुनाव मैदान छोड़कर फिर कांग्रेस में आए BSP प्रत्याशी

आखिर किसकी है गाय? मालिक की पहचान कराने की अनूठी कवायद, कोर्ट के समक्ष भी पेश की जा चुकी है

राजगढ़-लक्ष्मणगढ़ विधायक पर महिला ने लगाया दुष्कर्म का आरोप, रैणी थाने में दर्ज कराया मामला

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

News18 चुनाव टूलबार

चुनाव टूलबार