Home /News /rajasthan /

सीमावर्ती थानों में पुलिसकर्मियों को थमाई जाएगी एके-47!

सीमावर्ती थानों में पुलिसकर्मियों को थमाई जाएगी एके-47!

पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान की ओर से हो रही नापाक हरकतों को मुंह तोड़ जवाब देने के लिए बाड़मेर जिले के सीमावर्ती थानों में तैनात पुलिसकर्मियों को एके-47 जैसा हथियार चलाने के लिए बाड़मेर पुलिस अब प्रशिक्षण देने जा रही है और उसके बाद सीमावर्ती क्षेत्र के थानों के बाहर एके-47 हथियार से लैस पुलिसकर्मी नजर आएंगे.

पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान की ओर से हो रही नापाक हरकतों को मुंह तोड़ जवाब देने के लिए बाड़मेर जिले के सीमावर्ती थानों में तैनात पुलिसकर्मियों को एके-47 जैसा हथियार चलाने के लिए बाड़मेर पुलिस अब प्रशिक्षण देने जा रही है और उसके बाद सीमावर्ती क्षेत्र के थानों के बाहर एके-47 हथियार से लैस पुलिसकर्मी नजर आएंगे.

पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान की ओर से हो रही नापाक हरकतों को मुंह तोड़ जवाब देने के लिए बाड़मेर जिले के सीमावर्ती थानों में तैनात पुलिसकर्मियों को एके-47 जैसा हथियार चलाने के लिए बाड़मेर पुलिस अब प्रशिक्षण देने जा रही है.

पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान की ओर से हो रही नापाक हरकतों को मुंह तोड़ जवाब देने के लिए बाड़मेर जिले के सीमावर्ती थानों में तैनात पुलिसकर्मियों को एके-47 जैसा हथियार चलाने के लिए बाड़मेर पुलिस अब प्रशिक्षण देने जा रही है और उसके बाद सीमावर्ती क्षेत्र के थानों के बाहर एके-47 हथियार से लैस पुलिसकर्मी नजर आएंगे.

बाड़मेर जिले से लगती भारत-पाक सीमा पर पिछले कई सालों से अवांछित गतिविधियों में इजाफा हुआ है और इसी को देखते हुए बाड़मेर जिले के सीमावर्ती संवदेनशील थानों में तैनात सभी पुलिसकर्मियों को अब सभी तरह के हथियार चलाने की ट्रेनिंग के साथ-साथ बाड़मेर, जैसलमेर, जालोर, बीकानेर और गंगानगर के सीमावर्ती थानों में एके-47 राइफलें भी दी जाएंगी. हथियार चलाने की ट्रेनिंग के लिए डीजीपी मनोज भट्ट ने सीमावर्ती सभी जिला एसपी को निर्देश दिए हैं.

बाड़मेर जिले के सीमावर्ती थानों में तैनात जवानों को 20 दिन तक ट्रेनिंग और सीमावर्ती थानों का रिव्यू कराया जाएगा और वहां अनुभवी, लेकिन युवा पुलिसकर्मियों को लगाया जाएगा.

एसएलआर, कारबाइन, इंसास और एके-47 जैसी राइफलों से ट्रेनिंग करवाई जाएगी. वहीं हथियार खरीदने की स्वीकृति मिल चुकी है. वर्ष 2006 से हथियार चलाने की ट्रेनिंग में कटौती की जा रही थी क्योंकि हथियार चलाने के कारतूस नहीं थे.

Tags: Barmer news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर