Barmer: समदड़ी प्रधान की Live in relation कहानी में आया नया 'Twist', कथित प्रेमी के खिलाफ दर्ज कराया मामला

पूर्व प्रधान से जब दबाव बनाने वाले लोगों के बारे में पूछा गया तो उसने कहा कि यदि नाम बताया तो वो उसे जान से मार देंगे.
पूर्व प्रधान से जब दबाव बनाने वाले लोगों के बारे में पूछा गया तो उसने कहा कि यदि नाम बताया तो वो उसे जान से मार देंगे.

बाड़मेर के समदड़ी की पूर्व प्रधान रही बीजेपी नेत्री पिंक चौधरी की लिव-इन रिलेशनशिप (Live in Relationship) स्टोरी में नया मोड़ (Twist) आ गया है. अब उन्होंने अपने कथित प्रेमी के खिलाफ मामला दर्ज कराया है.

  • Share this:
बाड़मेर. समदड़ी की पूर्व प्रधान पिंकी चौधरी (Pinky Choudhary) एक बार फिर चर्चा में आ गयी है. उसकी लिव-इन रिलेशनशिप (Live in Relationship) स्टोरी में नया मोड़ (Twist) आ गया है. कुछ माह पूर्व पति को छोड़कर अपने कथित प्रेमी (Lover) अशोक के साथ लिव-इन रिलेशन में रहने वाली पूर्व प्रधान ने अब उसी के खिलाफ मामला दर्ज कराया है. मामला दर्ज कराने के लिये पूर्व प्रधान पिंकी मंगलवार रात 9 बजे खुद पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंची.

बाद में उन्हें वहां से महिला थाने भिजवाया गया. इससे बाड़मेर में एक बार फिर राजनीतिक भूचाल आने की संभावनायें बन गई हैं. पूर्व प्रधान का कहना है कि उसे और उसके ससुराल वालों की जान पर खतरा है. बड़े राजनीति के दबाव के चलते उसे डरा-धमकाकर 4 दिन तक जयपुर रखा गया और फिर परिवार को जान से मारने की धमकी भी दी गई.

Bundi: ढोंगी बाबा की करतूत, 4 दलित महिलाओं से किया रेप, अश्लील वीडियो बनाकर किये वायरल



कुछ माह पहले घर छोड़कर चली गई थी
बीजेपी से जुड़ी पूर्व प्रधान कुछ माह पहले घर छोड़कर चली गई थी. इससे यह मामला सोशल मीडिया और मीडिया में यह मामला काफी गरमाया रहा था. पूर्व प्रधान के पिता ने उसके लापता होने का मामला दर्ज कराया तो अफवाहों का बाजार और गर्म हो गया. उसके घर छोड़ने के तीन दिन बाद वह गोलिया चौधरियान गांव में अशोक कुमार के साथ उसके घर पर मिलीं. वहां पूर्व प्रधान ने पुलिस के दिये बयानों में साफ कहा था कि वह पति से तलाक होने तक अपने प्रेमी के साथ लिव इन रिलेशन (Live in relation) में रहेंगी. इससे एकबारगी मामला शांत हो गया. लेकिन मंगलवार रात इस मामले में फिर भूचाल आ गया.

पुलिस अधीक्षक ने सुरक्षा मुहैया करवाई
पूर्व प्रधान मंगलवार रात को पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंची और अशोक से खुद की जान का खतरे का आरोप लगाया. पुलिस अधीक्षक आनंद शर्मा ने मामले की गंभीरता को देखते हुए तुरंत महिला थाने में मामला दर्ज करने के आदेश देकर उन्हें पुलिस सुरक्षा मुहैया करवाई. पीड़िता का कहना है कि उसे व उसके परिवार को जान माल का खतरा है. पुलिस जल्द आरोपियो को गिरफ्तार करे.



लगातार 2 माह तक दबाव बनाकर उससे मारपीट करने का आरोप
पीड़िता ने बताया कि अशोक ने लगातार 2 माह तक दबाव बनाकर उससे मारपीट की और उन्हें पुलिस अधीक्षक के नाम ई-मेल करने के लिए मजबूर किया. ससुर के खिलाफ कार्रवाई करवाने की बात कही. लेकिन अब वह अपने पूर्व पति के साथ ही रहना चाहती है. पूर्व प्रधान से जब दबाव बनाने वाले लोगों के बारे में पूछा गया तो उसने कहा कि यदि नाम बताया तो वो उसे जान से मार देंगे. महिला थानाधिकारी लता बेगड़ के अनुसार पीड़िता की रिपोर्ट के आधार पर 344,384,323,120B के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज