बाड़मेर पुलिस की गुंडागर्दी: तीन लोगों को बेरहमी से पीटा, तीन पुलिसकर्मी लाइन हाजिर

बाड़मेर में पुलिस की गुंडागर्दी चरम पर है. बाड़मेर शहर में दो दिन पहले नशे में धुत्त तीन पुलिसकर्मियों ने जिस तरह तीन-चार लोगों को पीटा उसे देखकर रौंगटे खड़े हो जाते हैं. इस घटना के बाद पीड़ित और उनके परिजन खौफ में हैं

Premdan Detha | News18 Rajasthan
Updated: July 23, 2019, 9:39 AM IST
बाड़मेर पुलिस की गुंडागर्दी: तीन लोगों को बेरहमी से पीटा, तीन पुलिसकर्मी लाइन हाजिर
पुलिसकर्मियों की मारपीट का शिकार हुआ युवक। फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।
Premdan Detha | News18 Rajasthan
Updated: July 23, 2019, 9:39 AM IST
बाड़मेर में पुलिस की गुंडागर्दी चरम पर है. बाड़मेर शहर में दो दिन पहले नशे में धुत्त तीन पुलिसकर्मियों ने जिस तरह तीन-चार लोगों को पीटा उसे देखकर रौंगटे खड़े हो जाते हैं. बाड़मेर पुलिस की गुंडागर्दी की इस घटना के बाद पीड़ित और उनके परिजन खौफ में हैं तो बाड़मेर शहर के लोगों में पुलिस के खिलाफ जबर्दस्त आक्रोश है. हालांकि पुलिस प्रशासन ने खानापूर्ति के लिए तीनों आरोपी पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया है, लेकिन पीड़ितों के जख्मों का अभी तक कोई हिसाब नहीं हुआ है.

नशे में धुत्त थे पुलिसकर्मी
जानकारी के अनुसार मारपीट की घटना दो दिन पहले रविवार रात को करीब 11 बजे हुई थी. पुलिस की दरिंदगी के शिकार हुए जोगियों की दड़ी निवासी ट्रक चालक नरसिंगाराम बताया कि वह कवास से जिप्सम की पटिट्यां भर कर बाड़मेर आया था. बरसात होने के कारण वह उन पर तिरपाल बांध रहा था. इसी दौरान सिविल गाड़ी में सिविल कपड़ों में एएसआई लूणाराम, हैड कांस्टेबल घमंडाराम और मोहनलाल विश्नोई समेत चार-पांच पुलिसकर्मी आए. पुलिसकर्मी नशे में धुत्त थे.

शरीर पर खून के थक्के जम गए

उन्होंने पूछा कि गाड़ी में क्या है ? उनको बताया कि जिप्सम की पटिट्यां भरी हैं. इस पर उन्होंने मारपीट शुरू कर दी. यह देखकर रामाराम और रमेश बीच-बचाव के लिए आए तो उन्हें भी जमकर पीटा. बाद में घर में घुसकर पत्नी को पीटने लगे. मारपीट के बाद नरसिंगाराम समेत रामराम और जेठाराम को सदर थाने ले गए. वहां दो घंटे तक जमकर मारपीट की. इससे उसके शरीर पर खून के थक्के जम गए.

खौफ में पीड़ितों के परिजन, लोगों में आक्रोश
पुलिस का कहना है कि उसे अवैध शराब की सूचना मिली थी. इस पर उन्होंने उन लोगों से पूछताछ की थी. पीड़ितों की घर की महिलाओं का कहना है कि जिस तरीके से सादी वर्दी में पुलिस वालों ने हमारे परिवार की पिटाई की उसके बाद हम खौफ में जी रहे हैं. मंगलवार को यह पूरा मामला सोशल मीडिया में छाया रहा. उसके बाद शहर के दर्जनों युवाओं ने बाड़मेर एसपी और जिला प्रशासन से मुलाकात कर दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की.
Loading...

तीनों पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर किया
बाड़मेर पुलिस अधीक्षक शिवराज मीणा का कहना है कि मामले की जांच डीवाईएसपी कर रहे हैं. हमने मामले की गंभीरता को देखते हुए तीनों पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया है. जल्द जांच रिपोर्ट आने पर अगली कार्रवाई की जाएगी.

मेहरानगढ़ दुखांतिका: क्या सामने आएगा 216 लोगों की मौत का सच

सुर्खियां: मजबूत किया जाएगा जयपुर का सुरक्षा तंत्र
First published: July 23, 2019, 9:37 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...