Home /News /rajasthan /

बारिश के कारण अपनी ही आंखों के सामने फसल बर्बाद होती देखने को मजबूर किसान

बारिश के कारण अपनी ही आंखों के सामने फसल बर्बाद होती देखने को मजबूर किसान

जलमग्न हुए खेत

जलमग्न हुए खेत

बाड़मेर जिले में लगातार सप्ताह भर से हो रही बारिश अब लोगों के लिए आफत बनती नजर आ रही है. कई गाँवो में इलाके जलमग्न हो गए हैं वही दूसरी तरफ सैकड़ों खेतिहारों के खेतों पर पानी की चादर बिछ गई है.

बाड़मेर जिले में लगातार सप्ताह भर से हो रही बारिश अब लोगों के लिए आफत बनती नजर आ रही है. कई गाँवो में इलाके जलमग्न हो गए हैं वही दूसरी तरफ सैकड़ों खेतिहारों के खेतों पर पानी की चादर बिछ गई है. निकटवर्ती रानीगांव में पानी की आवक के चलते 50 के करीब परिवारों को उनके घरों से निकाल कर सुरक्षित जगह पर पहुँचाया गया है.

बाड़मेर जिले के कई गांवों में बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं. आलम यह है कि आसपास के दर्जन भर गाँवो के खेतों में सैंकड़ों एकड़ में खड़ी फसल पर संकट मंडरा गया है. यदि खेतों में जमा बरसाती पानी की जल्द ही पानी की निकासी नहीं हुई तो सैंकड़ों एकड़ में खड़ी फसल बर्बाद हो जाएगी. सबसे ज्यादा परेशान वह किसान हैं, जो कुछ दिनों पहले ही बरसात के लिए दुआ कर रहे थे, वह अपनी ही आंखों के सामने फसल को बर्बाद होते देखे रहे हैं, लेकिन चाह कर भी कुछ नहीं कर पा रहे हैं.

ऐसे किसानों के आंसू अब रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं. निकटवर्ती राणीगांव में नदी का पानी गाँव के आसपास खेतो में घुस जाने से 50 परिवारों को सुरक्षित दूसरी जगह भिजवाया गया है. राणीगांव सरपंच उगमसिंह ने जिला प्रशासन को हालात से अवगत करवाते हुए जमा पानी की जल्द से जल्द निकासी करवाने की मांग की है.

बाड़मेर में रविवार दिनभर हुई तेज बरसात के बाद सैंकड़ों एकड़ में खड़ी फसल पानी से जलमग्न हो गई थी. कई गांव तो ऐसे हैं, जहां पर खेत एक तालाब के रूप में नजर आ रहे हैं. जहां भी नजर जाती है, वहां केवल पानी ही पानी नजर आता है. खेतों में जमा बरसाती पानी की निकासी नहीं होने से किसान भी चिंतित हो गए हैं. यदि जल्द ही खेतों में जमा बरसाती पानी की निकासी नहीं हुई तो किसानों की फसल पर संकट मंडरा सकता है. वहीं दूसरी तरफ तेज बारिश के चलते जगह-जगह सड़के भी टूट गईं है जिसके चलते राहगीरों को परेशानी हो रही है.

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर