Home /News /rajasthan /

मंत्री जी बोले, जहरीली शराब से मरे सभी लोग यूपी-बिहार के, हम क्या करें?

मंत्री जी बोले, जहरीली शराब से मरे सभी लोग यूपी-बिहार के, हम क्या करें?

बाड़मेर जिले में जहरीली शराब पीने से अब तक 16 लोग मौत का शिकार हो चुके हैं. बाड़मेर के इस दुख में हर कोई डूबा हुआ नजर आ रहा है. यहां तक की विपक्षी कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष भी बाड़मेर का दौरा कर मृतकों के परिजनों को सांत्वना दे चुके है.

बाड़मेर जिले में जहरीली शराब पीने से अब तक 16 लोग मौत का शिकार हो चुके हैं. बाड़मेर के इस दुख में हर कोई डूबा हुआ नजर आ रहा है. यहां तक की विपक्षी कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष भी बाड़मेर का दौरा कर मृतकों के परिजनों को सांत्वना दे चुके है.

बाड़मेर जिले में जहरीली शराब पीने से अब तक 16 लोग मौत का शिकार हो चुके हैं. बाड़मेर के इस दुख में हर कोई डूबा हुआ नजर आ रहा है.

बाड़मेर जिले में जहरीली शराब पीने से अब तक 16 लोग मौत का शिकार हो चुके हैं. बाड़मेर के इस दुख में हर कोई डूबा हुआ नजर आ रहा है. यहां तक की विपक्षी कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष भी बाड़मेर का दौरा कर मृतकों के परिजनों को सांत्वना दे चुके है.

वहीं दूसरी तरफ सत्ताधारी पार्टी के मंत्री यानि की जिनके कंधो पर इस जिले की जिम्मेदारी है वो बेतुके बोल बोलकर जले पर मरहम लगाने के बजाय नमक छिड़कने का काम कर रहे हैं.

राजस्थान के राजस्व राज्य मंत्री अमराराम ने हद तो तब कर दी जब वे मीडिया से रूबरू होते हुए बोले कि जहरीली शराब से मरे सभी लोगों को यूपी और बिहार हैं. नेताजी यहीं नहीं रुके आगे कहा कि शराब पीने वाले पीते है और मांस खाने वाले मॉस खाते है, उसमे हम क्या करें और जो हो गया वो हमने तो किया नहीं और करने वाले तुम खुद ही हो. आगे से आप अपने बेटों का ध्यान रखना कि वे जहरीली शराब नहीं पिएं.

नेताजी के ये बेतुके बोल जले पर नमक छिड़कने जैसे हैं. नेताजी अपनी सरकार की लापरवही छुपाने के लिए मृतकों को यूपी बिहार का बता रहे हैं, जबकि जो लोग मरे हैं वो सभी जिले के अलग अलग गांवों के हैं. नेताजी खुद उनके गांवों में जाकर 75000-75000 के चैक मुआवजे के रूप उनके परिजनों को सौंप आए हैं.

इसके अलावा नेताजी का एक और बेतुका बयान ये है कि मरने वाले हमारी गलती से तो नहीं मरे हैं तो नेताजी राज्य सरकार किसकी है. जहरीली शराब को बेचने से रोकने की जिम्मेदारी किसकी थी, आबकारी और पुलिस किसके नियंत्रण में काम करती है, फिर जो लोग मरे हैं उसका जिम्मेदार कौन था?

नेताजी के बड़बोले पन के कारण जिले की आमजनता और विषेशकर मृतकों को कितना दुख पहुंचेगा नेताजी को शायद इस बात का बिल्कुल भी अंदेशा नहीं है. बस नेताजी अपने बड़बोलेपन और बेतुके बयानों से गलतियों पर पर्दा डालने की कोशिश करते दिखे.

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर