नेटवर्क की समस्या: करनी पड़ती है पहाड़ी पर चढ़ाई, तब हो पाती है ऑनलाइन पढ़ाई
Barmer News in Hindi

नेटवर्क की समस्या: करनी पड़ती है पहाड़ी पर चढ़ाई, तब हो पाती है ऑनलाइन पढ़ाई
पहाड़ी पर चढ़ाई कर ऑनलाइन क्लास हो पाती है.

देश भर में कोविड-19 (Covid-19) काल मे ऑनलाइन पढ़ाई (Online Education) की बात पर जोर दिया गया है, लेकिन इस पढ़ाई के लिए किसी को रोज ऊंचा पहाड़ चढ़ना पड़े और वह भी रेतीले राजस्थान में तो ये उसके लिए किसी मुसीबत से कम नहीं है.

  • Share this:
बारमेर. देश भर में कोविड-19 (Covid-19) काल मे ऑनलाइन पढ़ाई (Online Education) की बात पर जोर दिया गया है, लेकिन इस पढ़ाई के लिए किसी को रोज ऊंचा पहाड़ चढ़ना पड़े और वह भी रेतीले राजस्थान में तो ये उसके लिए किसी मुसीबत से कम नहीं है. भारत के सरहदी इलाके बाड़मेर में यह बात कड़वी सच्चाई के साथ एवं मासूम के रोजमर्रा का हिस्सा बन चुकी है. यहां मोबाइल नेटवर्क की समस्या के चलते पढ़ाई के लिए टेबल-कुर्सी के साथ ऊंची पहाड़ी की चढ़ाई बच्चों को करनी पड़ती है. तब जाकर कहीं नेटवर्क मिल पाता है.

देश भर में कोविड-19 की महामारी के चलते विद्यालय तालों की जद में है और कई विद्यालय ऑनलाइन पढ़ाई के जरिये बच्चों को उनकी कक्षाओं से जोड़ रहे है, लेकिन यही ऑनलाइन एजुकेशन सरहदी बाड़मेर जिला मुख्यालय के निकटवर्ती दरुड़ा के भीलों की बस्ती निवासी एक मासूम हरीश कुमार के लिए जी का जंजाल बन गई है. इस गांव मे मोबाइल फोन का नेटवर्क नहीं आता और जवाहर नवोदय विद्यालय का विद्यार्थी होने के चलते क्लॉस में हाजिर होना भी जरूरी होता है. ऐसे में घर के पास स्थित पहाड़ी की चोटी के ऊपर टेबल कुर्सी लेकर पढ़ाई करनी पड़ रही है. हरीश के मुताबिक ऑनलाइन क्लास में बैठना अनिवार्य है. ऐसे में सुबह-सुबह होने वाली हाजरी से पहले पहाड़ चढ़ना जरूरी हो जाता है और बाकी की पढ़ाई पहाड़ पर ही होती है.

ये भी पढ़ें: सांपों का 'खास दोस्त' है बस्तर पुलिस का ये जवान, हाथ के इशारों पर नाचते हैं जहरीले नाग!



डेढ़ महीने से यही कवायद
हरीश के पिता वीरमदेव बताते है कि गत डेढ़ महीने से सुबह 8 बजे हरीश पहाड़ पर चढ़ता है और क्लास खत्म होने के बाद 2 बजे के करीब वापस पहाड़ से उतरता है. धूप-छांव में हरीश वहीं पढ़ता है और मोबाइल नेटवर्क का ना होना उसके लिए परेशानी का सबब बना हुआ है. हरीश के पिता के मुताबित उसने अलग-अलग मोबाइल कम्पनियों के सिम कार्ड खरीदे लेकिन किसी भी मोबाइल कम्पनी का नेटवर्क इस इलाके में नही आता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading