बाड़मेर में सामने आया ट्रिपल तलाक का केस, अदालत के आदेश पर दर्ज हुआ मामला

राजस्थान (Rajasthan) में अजमेर (Ajmer) के बाद अब बाड़मेर जिले (Barmer District) में भी ट्रिपल तलाक (Triple Talaq ) का मामला सामने आया है. ट्रिपल तलाक कानून पास होने के बाद बाड़मेर जिले में यह पहला मामला (First case) है.

Premdan Detha | News18 Rajasthan
Updated: September 12, 2019, 5:39 PM IST
बाड़मेर में सामने आया ट्रिपल तलाक का केस, अदालत के आदेश पर दर्ज हुआ मामला
ट्रिपल तलाक के खिलाफ कानून पास होने के बाद बाड़मेर जिले में यह पहला मामला है.
Premdan Detha | News18 Rajasthan
Updated: September 12, 2019, 5:39 PM IST
बाड़मेर. राजस्थान (Rajasthan) में अजमेर (Ajmer) के बाद अब बाड़मेर जिले (Barmer District) में भी ट्रिपल तलाक (Triple Talaq ) का मामला सामने आया है. ट्रिपल तलाक कानून पास होने के बाद बाड़मेर जिले में यह पहला मामला (First case) है. यहां एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी से मारपीट की और बाद में तीन बार तलाक-तलाक-तलाक बोलकर घर से निकाल दिया. इसके साथ ही केरोसिन डालकर जलाने की भी धमकी दी. पुलिस ने जब इस मामले में कोई सुनवाई नहीं की तो पीड़िता ने न्यायालय के जरिए मामला दर्ज कराया है.

6 साल पहले हुई थी शादी
बाड़मेर के धोरीमन्ना थाना इलाके के बामणोर निवासी मिबाई ने बताया कि उसका निकाह करीब 6 वर्ष पूर्व सलीम पुत्र आमद के साथ हुआ था. कुछ समय बाद ही पति और सास- ससुर दहेज के लिए प्रताड़ित करने लगे. इसको लेकर भी धोरीमन्ना थाने में मामला दर्ज है. पिछले 3 वर्ष से वह अलग झोपड़ी बनाकर रह रही है.

पुलिस ने नहीं की कोई ठोस कार्रवाई

पीड़िता मिबाई का आरोप है कि गत 19 अगस्त की शाम को पति सलीम, सास हुमायत और ससुर आमद ने एक राय होकर उसके साथ मारपीट की. घर से बाहर निकाल उस पर ताला लगा दिया. इस दौरान उसके पति ने तीन बार तलाक-तलाक-तलाक कहा और केरोसिन डालकर जान से मारने की धमकी दी. मारपीट के दौरान चिल्लाने पर पड़ोसी ने बीच बचाव किया. अगले दिन 20 अगस्त को उसने धोरीमन्ना पुलिस थाने में रिपोर्ट दी, लेकिन पुलिस ने उसके पति को महज पाबंद करके छोड़ दिया.

एसपी ऑफिस से भी नहीं मिली राहत तो कोर्ट का दरवाजा खटखटाया
न्याय नहीं मिलने पर पीड़िता ने जिला पुलिस अधीक्षक से मिलकर मामला दर्ज करवाने की फरियाद लगाई, लेकिन वहां भी कोई सुनवाई नहीं हुई. इस पर पीड़िता ने न्यायालय में परिवाद पेश किया. कोर्ट ने बाड़मेर पुलिस को मामला दर्ज करने के आदेश दिए हैं.
Loading...

अभी तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक खींवसिंह भाटी कहना है कि पीड़िता ने न्यायालय के जरिए धोरीमन्ना थाने में मामला दर्ज करवाया है. पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है, लेकिन अभी तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई है. पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है.

भरतपुर में बदमाश घर से उठा ले गए नाबलिग को, जंगल में ले जाकर किया गैंगरेप

राबॅर्ट वाड्रा से जुड़े केस पर HC में हुई सुनवाई, 26 सितंबर को होगी अंतिम बहस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बाड़मेर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 12, 2019, 5:27 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...