लाइव टीवी

पुस्तक दान-एक महादान : जरूरतमंद विद्यार्थियों की आप भी कर सकते हैं मदद

Premdaan | News18 Rajasthan
Updated: October 11, 2019, 1:16 PM IST
पुस्तक दान-एक महादान : जरूरतमंद विद्यार्थियों की आप भी कर सकते हैं मदद
इन पुस्तकों का लाभ वे सभी विद्यार्थी उठा पाएंगे जिनकी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है.

दान की गई पुस्तकों को कॉलेज प्रशासन जरूरतमंद विद्यार्थियों को नि:शुल्क उपलब्ध कराएगा. यहां से किताबें लेने के लिए विद्यार्थियों को आवेदन करना होगा और तीन महीने में इसे बैंक में पुन: जमा करानी होगी.

  • Share this:
बाड़मेर. आपके घर पर पुरानी पुस्तकें जो आपके किसी भी काम नहीं आ रही हैं, उन्हें आप कॉलेज में दान (Book Donation) दे सकते हैं. दान की गई पुस्तकों को कॉलेज प्रशासन जरूरतमंद विद्यार्थियों को नि:शुल्क उपलब्ध कराएगा. दरअसल, आयुक्तालय कॉलेज शिक्षा जयपुर (Jaipur) ने यह पहल की है. कॉलेज स्तर पर 'पुस्तक दान-एक महादान' (Pustak Daan-Ek Mahadan) कार्यक्रम चलाया जा रहा है. इसके तहत बाड़मेर (Barmer) की एमबीसी पीजी गर्ल्स कॉलेज में 'कम्युनिटी बुक बैंक' (Community Book Bank) बनाया गया है ताकि कॉलेज आने वाले जरूरतमंद विद्यार्थियों को पुस्तकें आसानी से मिल सके.

इस बुक बैंक में पूर्व स्टूडेंट्स, शिक्षक और दानदाता विभिन्न विषयों की किताबें दान करेंगे, जिसे जरूरतमंद विद्यार्थी पढ़ने के लिए नि:शुल्क ले सकेंगे. छात्रसंघ के पदाधिकारी भी इस मुहिम में शामिल होकर शहर के शिक्षकों और विद्यार्थियों के घर जाएंगे और वहां से पुस्तकें लेकर कॉलेज में जमा भी कराएंगे. इन पुस्तकों का लाभ वे सभी विद्यार्थी उठा पाएंगे जिनकी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं और इस कारण बाजार से पुस्तक नहीं खरीद सकते हैं. इस बुक बैंक के माध्यम से ऐसे सभी विद्यार्थियों को फायदा मिलेगा.

यह बुक बैंक कॉलेज में पहले से चल रहे पुस्तकालय के अतिरिक्त होगा.


विद्यार्थियों को 3 महीने बाद लौटानी होगी पुस्तक

एमबीसी पीजी गर्ल्स कॉलेज के प्राचार्य डॉक्टर हुकमाराम सुथार ने बताया कि इसके लिए उन्होंने एक कमेटी का गठन किया है जो इस बुक बैंक को संचालित करेगी. यह बुक बैंक कॉलेज में पहले से चल रहे पुस्तकालय के अतिरिक्त होगा. यहां से किताबें लेने के लिए विद्यार्थियों को आवेदन करना होगा और तीन महीने में इसे बैंक में पुन: जमा करानी होगी.

समिति में महाविद्यालय के संकाय सदस्यों के अलावा नियमित सदस्यों को सह सदस्य के रूप में शामिल किया गया है. यह समिति 'पुस्तक दान महादान' अभियान की शुरुआत करते हुए पूर्व विद्यार्थियों व दानदाताओं को पुस्तकें दान करने के लिए प्रेरित करेगी.

ये भी पढ़ें - अस्पताल के गेट पर महिला ने दिया बच्ची को जन्म, पति मदद के लिए चिल्लाता रहा
Loading...

ये भी पढ़ें - भरतपुर में श्रद्धालुओं से भरी बस पलटी, एक ही परिवार के दो दर्जन यात्री घायल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बाड़मेर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 11, 2019, 1:16 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...