होम /न्यूज /राजस्थान /

Rajasthan: भरतपुर BJP MP रंजीता कोली पर खनन माफिया ने फिर किया हमला, खेतों में भागकर बचाई जान

Rajasthan: भरतपुर BJP MP रंजीता कोली पर खनन माफिया ने फिर किया हमला, खेतों में भागकर बचाई जान

भरतपुर में खनन माफिया के  हमले में क्षतिग्रस्त हुई बीजेपी सांसद रंजीता कोली की कार.

भरतपुर में खनन माफिया के हमले में क्षतिग्रस्त हुई बीजेपी सांसद रंजीता कोली की कार.

भरतपुर सांसद रंजीता कोली पर घातक हमला: राजस्थान में बेकाबू हो रहे खनन माफिया (Mining mafia) ने एक बार फिर से भरतपुर की बीजेपी सांसद रंजीता कोली पर जानलेवा हमला (Fatal attack on Bharatpur MP Ranjeeta Koli) कर दिया. रविवार को आधी रात को बॉर्डर इलाके में किये गये इस हमले में रंजीता कोली बाल-बाल बची हैं. उन्होंने खेतों में भागकर अपनी जान बचाई. हमले के विरोध में सांसद रंजीता कोली रातभर से मौके पर ही धरना दिये बैठी हैं.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

भरतपुर के कामां इलाके में आधी रात को हुई वारदात
सांसद रंजीता कोली हमले के विरोध में रातभर से धरने पर बैठी हैं

दीपक पुरी.

भरतपुर. राजस्थान के भरतपुर की बीजेपी सांसद रंजीता कोली (Bharatpur MP Ranjeeta Koli) पर एक बार फिर से खनन माफिया (Mining mafia) ने घातक हमला किया है. हमले में सांसद बाल-बाल बची हैं. हमलावरों ने उनकी कार को तोडफोड़ दिया. इस पर सांसद रंजीता कोली ने खेतों में भागकर अपनी जान बचाई. हमले के बाद हमलावर फरार हो गये. आधी रात को बाद में जिला कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक समेत अन्य आलाधिकारी मौके पर पहुंचे और हालात का जायजा लिया. दूसरी तरफ हमले से आक्रोशित सांसद रंजीता कोली रातभर से धरने पर बैठी हैं. सांसद कोली पर यह चौथी बार हमला हुआ है.

जानकारी के अनुसार सांसद रंजीता कोली रविवार रात को दिल्ली से लौट रही थी. इसी दौरान कामां इलाके में बॉर्डर पर बड़ी संख्या में अवैध खनन के ओवरलोड ट्रक निकल रहे थे. सांसद कोली ने उनको रुकवाया. इससे गुस्साये खनन माफिया बेलगाम हो गये और उन्होंने रंजीता कोली पर हमला कर दिया. खनन माफियाओं ने सांसद की गाड़ी पर पथराव कर दिया. इस पर सांसद ने कार से उतरकर सुरक्षाकर्मियों के साथ खेतों में भागकर अपनी जान बचाई. लेकिन माफिया उनका पीछा करते रहे. बाद में ग्रामीणों के आने पर माफिया सांसद की गाड़ी को टक्कर मारकर ट्रक को लेकर फरार हो गये.

सांसद रंजीता कोली ने मौके पर ही दिया धरना

सांसद का कहना है कि उन्होंने अवैध खनन के बारे में पुलिस अधीक्षक को पहले भी बताया था लेकिन उन्होंने कहा कि यह खनन का मामला है. ये उनकी जिम्मेदारी नहीं है. सांसद पर हमले की सूचना पर उनके समर्थक और कार्यकर्ता मौके पर पहुंच गये और वहां जमकर हंगामा होने लग गया. सांसद कोली हमले के विरोध में मौके पर ही धरने पर बैठ गईं. देर रात जिला कलेक्टर आलोक रंजन और पुलिस अधीक्षक श्याम सिंह मौके पर पहुंचे. उन्होंने सांसद रंजीता कोली से बातचीत कर पूरे मामले की जानकारी ली.

सौ से डेढ़ सौ की संख्या में थे ओवरलोड ट्रक

सांसद सोमवार को सुबह तक धरने पर बैठी रही. रातभर से धरने पर बैठी रही सांसद रंजीता कोली ने हमलावरों को पकड़ने की मांग की है. सांसद का कहना है कि रात को करीब सौ से डेढ़ सौ की संख्या में ओवरलोड ट्रक खनन सामग्री लेकर निकल रहे थे. उन्होंने बॉर्डर पर धिलावटी चौकी के पास उनको रुकवाया तो खनन माफियाओं ने उन पर हमला कर दिया. सांसद का आरोप है कि पुलिस के सामने ही माफिया ट्रकों को लेकर भागे. पुलिस खुद ही ट्रकों को वहां से पास करवाती रही.

Tags: Bharatpur News, BJP MP, Crime News, Illegal Mining, Rajasthan news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर