लाइव टीवी

भरतपुर पंचायत चुनाव को लेकर खूनी संघर्ष, फायरिंग, पथराव, घरों में आग लगाई, तनाव, कई लोग घायल

Shiv Kumar Vashishth | News18 Rajasthan
Updated: January 19, 2020, 7:35 PM IST
भरतपुर पंचायत चुनाव को लेकर खूनी संघर्ष, फायरिंग, पथराव, घरों में आग लगाई, तनाव, कई लोग घायल
उपद्रवियों ने कई वाहनों को आग लगा दी. वहीं कई घरों में घुसकर तोड़ फोड़कर वहां भी आगजनी की.

भरतपुर (Bharatpur) के कामां इलाके की कैथवाड़ा ग्राम पंचायत (Kathwada) के सोलपुर गांव में रविवार को दो पक्षों के समर्थक आमने-सामने हो गए. इस दौरान दोनों पक्षों में जमकर फायरिंग (Firing) और पथराव (Stone throwing) हुआ. ट्रैक्टर और अन्य वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया.

  • Share this:
भरतपुर. राजस्थान के भरतपुर जिले में पंचायत चुनावों (Panchayat Elections) को लेकर उपजी रंजिशें थमने का नाम नहीं ले रही हैं. यहां कामां इलाके की कैथवाड़ा ग्राम पंचायत (Kathwada) के सोलपुर गांव में रविवार को दो पक्षों के समर्थक आमने-सामने हो गए. इस दौरान दोनों पक्षों में जमकर फायरिंग (Firing) और पथराव (Stone throwing) हुआ. ट्रैक्टर और अन्य वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया. कुछ घरों में भी तोड़फोड़ कर आगजनी की गई. हिंसा में कई लोग घायल (Injured) हो गए. उन्हें सीकरी के अस्पताल में भर्ती कराया गया है. गांव में भारी पुलिस बल तैनात है. स्थिति अभी भी नियंत्रण से बाहर है. गांव में जबरदस्त तनाव बना हुआ है.

कई वाहन जलाए, घरों में आग लगाई
जानकारी के अनुसार, कैथवाड़ा पंचायत में गत 17 जनवरी को पंचायत चुनाव हुए थे. उसके बाद से ही हारे हुए और जीते हुए पक्षों में तनातनी चल रही है. चुनाव के तत्काल बाद कैथवाड़ा गांव में हिंसा हुई थी. उसके बाद रविवार को पंचायत के सोलपुर गांव में दोनों पक्ष आमने-सामने हो गए. दोपहर में दोनों पक्षों के लोग किसी बात को लेकर भिड़ पड़े. उसके बाद दोनों तरफ से जमकर गोलियां चलाई गई और पत्थर फेंके गए. उपद्रवियों ने छतों पर चढ़कर पथराव किया. इसमें करीब आधा दर्जन महिला-पुरुष घायल हो गए. उपद्रवियों ने कई वाहनों को आग लगा दी. वहीं कई घरों में घुसकर तोड़ फोड़कर वहां भी आगजनी की.

गांव में अनियंत्रित हो रहे हालात

उपद्रव की सूचना पर कैथवाड़ा थाना पुलिस मौके पर पहुंची. लेकिन वह वहां की स्थिति देखकर घबरा गई. बाद में गांव में भारी पुलिस बल बुलाया गया, लेकिन फिर भी शाम तक स्थिति पर पूरी तरह से काबू नहीं पाया जा सका. पुलिस लोगों से समझाइश के प्रयास कर रही है. घायलों को सीकरी के अस्पताल में भर्ती कराया गया है. तनाव को देखते हुए गांव में चप्पे-चप्पे पर भारी पुलिस जाब्ता तैनात किया गया है. तनाव के हालात बने हुए हैं. पुलिस और प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर मौजूद हैं.

 

दुबई से सरपंच का चुनाव लड़ने आई सीकर की बहू, लाखों रुपए का सालाना पैकेज छोड़ा 

पंचायत चुनाव: पहले चरण में रिकॉर्ड वोटिंग, हनुमानगढ़ जिले में 89.25% वोट पड़े

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भरतपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 19, 2020, 7:08 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर