Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    Bharatpur : तनाव के कारण उच्चैन SHO को आया हार्ट अटैक, मौत, बेटे की सगाई के लिये नहीं मिली थी छुट्टी

    उच्चैन थानाधिकारी होशियार सिंह.
    उच्चैन थानाधिकारी होशियार सिंह.

    भरतपुर के उच्चैन थानाधिकारी होशियार सिंह (Hoshiar Singh) की गुरुवार को हार्ट अटैक से मौत हो गई. बताया जा रहा है कि उन्हें बेटे की सगाई और शादी के लिये छुट्टी नहीं मिल पा रही थी जिसके चलते वे तनाव में थे.

    • Share this:
    भरतपुर. जिले के उच्चैन थानाप्रभारी होशियार सिंह (Hoshiar Singh) की हार्ट अटैक से आज मौत हो गई. वे जिला मुख्यालय पर आरबीएम अस्पताल में भर्ती थे. बताया जा रहा है कि होशियार सिंह हाल ही के दिनों से तनाव (Tension) में चल रहे थे. तीन बाद उनके बेटे की सगाई का समारोह है. लेकिन उच्चाधिकारियों द्वारा छुट्टी नहीं दिये जाने से सिंह तनाव में आ गये थे. उसके बाद बुधवार रात को उन्हें अचानक हार्ट अटैक (Heart attack) आ गया. साथी पुलिसकर्मियों ने उन्हें आरबीएम अस्पताल में भर्ती कराया जहां उनकी मौत हो गई.

    जानकारी के अनुसार होशियार सिंह टोंक जिले के होशियारपुर के रहने वाले थे. उनके पुत्र की 16 नवंबर को सगाई तय थी. उसके 9 दिन बाद 25 नवंबर को शादी होनी थी. सूत्रों की मानें तो सिंह ने अपने पुत्र की सगाई और शादी के लिए उच्चाधिकारियों से छुट्टी मांगी थी. लेकिन दिवाली के त्यौहार का हवाला देकर उच्चाधिकारियों ने होशियार सिंह को छुट्टी नहीं दी. छुट्टी नहीं मिलने से होशियार सिंह तनाव में आ गये. इससे वे काफी परेशान हो गये.

    पंचायत राज चुनाव: जैसलमेर कांग्रेस में बगावत, गहलोत सरकार के मंत्री सालेह मोहम्मद के 4 सगे भाई उतरे चुनाव मैदान में

    बुधवार रात को आया अटैक


    बुधवार रात को अचानक सिंह को हार्ट अटैक आया. इस पर उनके सहकर्मी आनन-फानन में उनको स्थानीय अस्पताल लेकर गये. वहां से प्राथमिक उपचार के बाद उनको भरतपुर के आरबीएम अस्पताल के लिये रेफर कर दिया गया. आरबीएम अस्पताल में इलाज के दौरान गुरुवार को सुबह सिंह की मौत हो गई. सिंह के निधन के समाचार से पुलिस महकमे शोक की लहर दौड़ गई.

    पहले तनाव के कारण पुलिसकर्मी कर चुके हैं आत्महत्या
    उल्लेखनीय है कि राजस्थान पुलिस में भी काम का दबाव और तनाव अब काफी हावी होने लगा है. इसके चलते करीब चार-पांच माह पहले चूरू के राजगढ़ थानाप्रभारी समेत प्रदेश के अन्य इलाकों में दो-तीन पुलिसकर्मी आत्महत्या कर चुके हैं. पुलिस में आत्महत्या की बढ़ती घटनाओं को देखते हुये गत दिनों सीएम अशोक गहलोत ने पुलिसकर्मियों से सीधा संवाद भी किया था.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज