भरतपुर के कामां व डीग में गौ तस्करों ने फिर की फायरिंग, आधा दर्जन गौवंश को ले गए

भरतपुर जिले में बेखौफ गौ तस्करों ने एक बार फिर फायरिंग कर दहशत फैला दी है. कामां व डीग इलाके में गौ तस्कर फायरिंग कर गौवंश को पिकअप में डालकर ले गए.

DEEPAK LAWANIYA | News18 Rajasthan
Updated: August 28, 2018, 12:50 PM IST
भरतपुर के कामां व डीग में गौ तस्करों ने फिर की फायरिंग, आधा दर्जन गौवंश को ले गए
पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करते ग्रामीण। फोटो: न्यूज18 राजस्थान
DEEPAK LAWANIYA | News18 Rajasthan
Updated: August 28, 2018, 12:50 PM IST
भरतपुर जिले में बेखौफ गौ तस्करों ने एक बार फिर फायरिंग कर दहशत फैला दी है. कामां इलाके में गौ तस्कर करीब आधा दर्जन गौवंश को पिकअप में डालकर ले गए. ग्रामीणों के विरोध करने पर गौ तस्करों ने फायरिंग कर दी. गनीमत रही कि किसी को गोली नहीं लगी.

जानकारी के अनुसार वारदात सोमवार रात कामां व जनुथर में हुई. कामां कस्बे के प्रसिद्ध तीर्थ स्थल तीर्थराज विमल कुंड की बड़ी परिक्रमा मार्ग पर करीब एक दर्जन से अधिक हथियारबंद गौ तस्कर आधा दर्जन गौवंश  को पिकअप में लादकर ले जाने लगे. मामले की जानकारी मिलने पर स्थानीय लोगों ने जब इसका विरोध किया तो गोतस्करों ने फायरिंग शुरू कर दी. इससे ग्रामीण घबरा गए और पीछे हट गए. उसके बाद गौ तस्कर ग्रामीणों को डराते धमकाते हुए वहां से फरार हो गए. हड़बड़ाहट में गौ तस्कर पैर बंधे गाय के एक बछड़े को मौके पर ही छोड़ गए.



पुलिस के खिलाफ नारेबाजी
फायरिंग की घटना के बाद ग्रामीणों में पुलिस को सूचना दी, लेकिन वह एक घंटे की देरी से मौके पर पहुंची. मौके पर पहुंची पुलिस ने गौ तस्करों का पीछा करने का प्रयास तक भी नहीं किया, जिससे लोगों में रोष व्याप्त हो गया. नाराज लोगों ने मौके पर एकत्रित होकर कामां पुलिस के खिलाफ आक्रोश भी जताया. वहीं दूसरी घटना डीग के जनुथर कस्बे में हुई है. वहां भी गौ तस्कर फायरिंग कर गौवंश को गाड़ियों में डाल कर ले गए.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...