पार्षदों के हंगामे के चलते स्थगित करनी पड़ी नगर निगम की बजट बैठक

बैठक की अध्यक्षता कर रहे मेयर शिवसिंह भोंट ने जैसे ही अपना अध्यक्षीय भाषण शुरू किया तो भाजपा की पार्षद वीरमति ने शोर मचाना शुरू कर दिया. वीरमति का कहना था की बजट की बैठक को रद्द किया जाए क्योंकि उन्हें बजट की प्रति अभी थोड़ी देर पहले मिली है.

DEEPAK LAWANIYA | ETV Rajasthan
Updated: February 15, 2018, 6:30 PM IST
पार्षदों के हंगामे के चलते स्थगित करनी पड़ी नगर निगम की बजट बैठक
पार्षदों के हंगामे के चलते स्थगित करनी पड़ी बैठक
DEEPAK LAWANIYA | ETV Rajasthan
Updated: February 15, 2018, 6:30 PM IST
भरतपुर शहर की विकास की योजना बनाने के लिए आज आयोजित हुई नगर निगम की बजट बैठक पार्षदों के हंगामे के चलते स्थगित करनी पड़ गई. पार्षदों का आरोप था कि नगर निगम प्रशासन ने उन्हें बजट की प्रतिलिपि आज ही उपलब्ध कराई है लिहाजा बिना तैयारी बजट पर चर्चा करना मुमकिन नहीं है.

बैठक की अध्यक्षता कर रहे मेयर शिवसिंह भोंट ने जैसे ही अपना अध्यक्षीय भाषण शुरू किया तो भाजपा की पार्षद वीरमति ने शोर मचाना शुरू कर दिया. वीरमति का कहना था की बजट की बैठक को रद्द किया जाए क्योंकि उन्हें बजट की प्रति अभी थोड़ी देर पहले मिली है.

भाजपा के ही पार्षद योगेंद्र सिंह गप्पू ने तो बजट की प्रतिलिपि को फाड़कर उसकी कतरने हवा में उड़ा डाली. भाजपा पार्षदों के सुर में सुर मिलाते हुए कांग्रेस के नेता इंद्रजीत भारद्वाज, पार्षद संजय शुक्ला, सौरव सिंह धाऊ, दाऊदयाल शर्मा, दयाचंद पचौरी ने भी निगम प्रशासन पर आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि बजट को आनन-फानन में तैयार किया गया है और पार्षदों से इसके संबंध में कोई चर्चा तक नहीं की गई है.

इसी बहस के दौरान बसपा के पार्षद मोतीलाल जाटव और भाजपा के पार्षद नरेंद्र सिंह में एक दूसरे मुद्दे पर तीखी नोकझोंक हुई. निगम की बजट बैठक में अधिकांश पार्षदों का विरोध देखते हुए मेयर शिव सिंह भोंट ने आयुक्त शिवचरण मीणा से सलाह मशविरा कर बैठक को आगामी 21 फरवरी तक के लिए स्थगित कर दिया.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर