होम /न्यूज /राजस्थान /भरतपुर में नीतू किन्नर की अनोखी पहल, 10 साल में 100 गरीब बेटियों के हाथ करवाए पीले

भरतपुर में नीतू किन्नर की अनोखी पहल, 10 साल में 100 गरीब बेटियों के हाथ करवाए पीले

Third Gender: नीतू किन्नर बताती हैं कि खुशियों के मौके पर जजमानों के घर बधाई लेने जाते समय हमने जाना कि कई घरों में बेट ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

नीतू किन्नर के मुताबिक, पिछले 10 साल में उन्होंने 100 गरीब कन्याओं की शादी कराई हैं.
शहर से मिलने वाली बधाई में से 20% बचाकर गरीब कन्याओं की शादी पर खर्च करती हैं.

रिपोर्ट : ललितेश कुशवाहा

भरतपुर : थर्ड जेंडर के अस्तित्व को स्वीकारने के बावजूद भारतीय समाज आज भी किन्नरों को हीनदृष्टि से देखता है. जबकि समाज के मुख्यधारा में अपनी जगह स्थापित करने के लिए किन्नर समाज दिन-रात संघर्ष कर रहा है. ऐसी ही कोशिशों के तहत राजस्थान के भरतपुर में नीतू किन्नर ने एक अनोखी पहल की है. पिछले 10 साल में उन्होंने 100 गरीब कन्याओं की शादी अपने खर्चे पर करवाई है.

नीतू किन्नर बताती हैं कि खुशियों के मौके पर जजमानों के घर बधाई लेने जाते समय हमने जाना कि कई घरों में बेटियां शादी किए जाने की उम्र की हो गई हैं, पर उनके माता-पिता नही हैं या कहीं ऐसा परिवार भी दिखा जहां माता-पिता की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं होने के कारण वे अपनी बेटी की शादी का खर्च वहन नहीं कर पा रहे. 10 साल पहले इन्हीं गरीब कन्याओं का दर्द महसूस किया और उसी समय गरीब कन्याओं की शादी कराने का संकल्प किया.

10 साल में 100 शादियां कराईं

नीतू किन्नर के मुताबिक, पिछले 10 साल में उन्होंने 100 गरीब कन्याओं की शादी कराई हैं. शहर से मिलने वाली बधाई में से 20% हिस्सा बचाकर इन गरीब कन्याओं की शादी पर खर्च करती हैं. प्रति वर्ष 10 गरीब कन्याओं की शादी करवाती हैं. उन्होंने बताया कि शादी का पूरा खर्च वे खुद वहन करती हैं. नीतू किन्नर के मुताबिक, हम लड़की के माता-पिता से स्पष्ट बोल देते हैं कि लड़का आपकी पसंद का होगा, हमारा कार्य तो सिर्फ लड़कियों की शादी करना है. हमारे पास जो पहले आ जाता है उसी की शादी कराने का बीड़ा उठा लेते हैं.

हर जोड़े को गृहस्थी का सामान

नीतू किन्नर ने बताया कि प्रत्येक जोड़े को गृहस्थी का पूरा सामान दिया जाता है. एक सिंगल बेड, रजाई, गद्दा, तकिया, चादर, गौदरेज की अलमारी, 190 लीटर का फ्रीज, सोने व चांदी का सामान, वर-वधू के लिए कपड़े, 50 बर्तन आदि सामान दिए जाते हैं.

इस साल 11 नवंबर को विवाह समारोह

नीतू किन्नर ने बताया कि इस वर्ष यह विवाह समारोह 11 नवंबर को पाई बाग स्थित अभिनंदन मैरिज होम में आयोजित किया जाएगा. इस बार 10 जोड़ो में 9 हिंदू व एक मुस्लिम जोड़ा है. इस विवाह समारोह में खास बात यह है कि इस कार्यकम में सांप्रदायिक सौहार्द भी देखने को मिलेगा. एक ओर मंत्रों की गूंज के साथ शगुन से कन्याओं के हाथ पीले हो होते हैं, तो दूसरी ओर कुरान की आयतों के साथ बेटियां निकाह कबूल करेगी.

नीतू किन्नर का संदेश

नीतू किन्नर ने कहा कि समाज में लड़कियों की शिक्षा पर जोर देकर कन्या भ्रूणहत्या पर रोक लगाने का काम करना चाहिए. क्योंकि औरत जननी हैं और जो भूणहत्या की जा रही है, उसी का परिणाम है कि लड़के कुंवारे घूम रहे हैं. समाज को यही कहना चाहती हूं कि वक्त को समझो. जो यह मुसीबत आ रही है अपने कर्मों से आ रही है. थोड़ा इनसानियत का पाठ पढ़ लो. ऐसा कुछ मत करो, जिसके कुदरत का संतुलन बिगड़े.

Tags: Bharatpur News, Eunuch marries, Rajasthan news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें