लाइव टीवी
Elec-widget

किन्नर मौसी ने 10 जोड़ों का कराया सामूहिक विवाह, पेश की सांप्रदायिक सौहार्द्र की अनूठी मिसाल

Shiv Kumar Vashishth | News18 Rajasthan
Updated: November 13, 2019, 6:02 PM IST
किन्नर मौसी ने 10 जोड़ों का कराया सामूहिक विवाह, पेश की सांप्रदायिक सौहार्द्र की अनूठी मिसाल
शादी समारोह के दौरान वर-वधू को आशीवार्द देती किन्नर मौसी

भरतपुर में नीतू किन्नर (Neetu Kinnar) ने हिंदू मुस्लिम एकता की मिसाल पेश करते हुए मैरिज होम में 10 जोड़ों का विवाह(marriage) संपन्न कराया.

  • Share this:
भरतपुर. राजस्थान के भरतपुर (Bharatpur) में पार्षद नीतू किन्नर (Neetu Kinnar) कई सालों से ऐसा काम करती आ रही है, जो सबके लिए मिसाल साबित हो रही है. नीतू किन्नर (Neetu Kinnar) ने हिंदू मुस्लिम एकता की मिसाल पेश करते हुए मैरिज होम में 10 जोड़ों का विवाह(marriage) संपन्न कराया. मुस्लिम समाज के वर-वधुओं का मुस्लिम धर्म अनुसार निकाह संपन्न कराया गया तो वहीं हिंदू समाज के वर-वधुओं का विवाह विद्वान पंडितों द्वारा मंत्रोच्चार के साथ संपन्न कराया गया. इस शादी समारोह के जरिए किन्नर नीतू मौसी ने सांप्रदायिक सौहार्द्र की अनूठी मिसाल पेश की.

शादी में कई नेता व गणमान्य लोगों ने की शिरकत

शादी समारोह में वर-वधू पक्ष को आशीर्वाद देने के लिए अनेकों नेता व गणमान्य लोग मौके पर पहुंचे. पूरी शादी का खर्चा नीतू किन्नर ने खुद उठाया. हालांकि समाज के दानदाताओं ने भी पहुंच कर कन्यादान किया, लेकिन वर वधुओं के लिए घर गृहस्थी  चलाने का पूरा सामान और सोने-चांदी के जेवरात तथा बारात की दावत का इंतजाम नीतू किन्नर की तरफ से ही किया गया.

किन्नर मौसी ने मैरिज होम में 10 जोड़ों का विवाह संपन्न कराया
किन्नर मौसी ने मैरिज होम में 10 जोड़ों का विवाह संपन्न कराया


अब तक वह 80 गरीब कन्याओं की करवा चुकीं हैं शादी

नीतू किन्नर द्वारा आयोजित यह आठवां सामूहिक विवाह समारोह है और अब तक वह 80 गरीब कन्याओं के हाथ पीले कर चुकी हैं, जो अब अपना दांपत्य जीवन खुशी-खुशी व्यतीत कर रही हैं. नीतू बाई को लोग प्यार से मौसी कहते हैं और उन्होंने वर्ष 2012 से हर साल गरीब हिंदू-मुस्लिम लड़कियों की शादी करने का बीड़ा उठाया था. नीतू मौसी द्वारा आयोजित विवाह सम्मलेन में लोग अपनी सामर्थ्य के अनुसार भेट भी करते हैं.

एक ही पंडाल में होती है कई धर्मों की शादी 
Loading...

शादी के लिए एक ही पंडाल में मंडप बनाए जाते हैं, जहां पंडित और मौलवी एक साथ हिंदू और मुस्लिम रीति रिवाज से धर्म अनुसार शादियां करवाते हैं. सामूहिक शादी समारोह में नीतू मौसी लजीज भोजन भी बनवाती है, जिसमें सभी धर्मों के लोग भोजन का आनंद उठाते हैं. नीतू किन्नर सभी धर्म और जातियों को एक ही तराजू में तोलती हैं, उनके लिए ना कोई बड़ा है ना कोई छोटा है. नीतू किन्नर का कहना है कि इंसानियत ही उनके लिए सबसे बड़ी धरोहर है.

यह भी पढ़ें- शराबी चालक ने पेट्रोल पंप को तोड़ने की दी धमकी, पुलिस की जीप को भी जेसीबी से उड़ाया

यह भी पढ़ें- सांसद हनुमान बेनीवाल ने किया खींवसर थाने का घेराव, पढ़ें- क्या है चंपालाल गौड़ हत्याकांड

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भरतपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 13, 2019, 6:02 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...