टाइगर टी-24 की सेहत में सुधार, रिहाई की मांग जारी
Bharatpur News in Hindi

टाइगर टी-24 की सेहत में सुधार, रिहाई की मांग जारी
सज्जनगढ़ बायोलॉजिकल पार्क में रखे गए रणथंभौर के बाघ टी 24 उर्फ उस्ताद की सेहत में सुधार आया है.

सज्जनगढ़ बायोलॉजिकल पार्क में रखे गए रणथंभौर के बाघ टी 24 उर्फ उस्ताद की सेहत में सुधार आया है.

  • Share this:
सज्जनगढ़ बायोलॉजिकल पार्क में रखे गए रणथंभौर के बाघ टी 24 उर्फ उस्ताद की सेहत में सुधार आया है.

टी 24 ने  भोजन खाना शुरू कर दिया है और अब रेगुलर स्टूल भी पास कर रहा है. बाघ को अभी लगातार चिकित्सकों की निगरानी में रखा जा रहा हैं. पिछले छह महीने में कैद में रखे गए इस बाघ को लेकर राष्ट्रीय ही नहीं अन्तर्राष्ट‌रीय स्तर पर बाघ प्रेमी काफी चिंतित हैं. लगातार इसकी रिहाई की भी मांग की जा रही है लेकिन वन विभाग इस मामले में अभी कुछ कहने की स्थित में नहीं हैं.

सज्जनगढ़ बायोलॉजिकल पार्क में बीमार चल रहे बाघ टी 24 यानी उस्ताद की  सेहत को लेकर चिंतित बाघ प्रेमियों के लिए अच्छी खबर है कि बाघ टी 24 की हालत में सुधार होने लगा हैं. चार दिन से खाना बंद कर चुके बाघ टी 24 ने गुरुवार शाम छह किलो मीट खाया और शुक्रवार को सुबह स्टूल भी पास किया. टी 24 की देखरेख में लगाई गई चिकित्सकों की टीम  को इस बात से राहत मिली है. क्योंकि पहले  सबसे बड़ी चिंता का विषय बाघ का स्टूल पास नहीं करना था इसकी वजह बाघ उस्ताद का पेट भी फूला हुआ था और उसने खाना भी छोड़ दिया था अब बाघ के भोजन लेने से उसके शरीर में थोड़ी चुस्ती फुर्ती आई है. बाघ ने अपने बाड़े में चहलकदमी शुरू कर दी और उसकी दहाड़ में भी थोड़ा दमखम आया है.



बाघ उस्ताद के ब्लड सेंपल भी वन विभाग की ओर से जांच के लिए आईवीआरआई  बरेली भेजे गए थे. वन विभाग ने इन सेंपल्स के जरिए सभी तरह की जांच करवाई थी जिसमें लेप्रोस्कोपी भी शामिल थी. लेकिन अच्छी खबर ये है कि बाघ तमाम जांचों में रिपोर्ट नेगेटिव है. लेकिन जांच रिपोर्ट में बाघ उस्ताद के लीवर में थोड़ा इंफेक्शन बताया गया. यह इंफेक्शन दवाओं से ठीक होने की स्थति में है. उम्मीद जताई जा रही  कि आने वाले हफ्तेभर में बाघ उस्ताद पूरी तरह से सामान्य हो जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज