होम /न्यूज /राजस्थान /मिसाल: भरतपुर के 'ट्री मैन' हैं बच्चू सिंह वर्मा, चुना हरियाली का रास्ता; लगा दिए 65 हजार पेड़-पौधे

मिसाल: भरतपुर के 'ट्री मैन' हैं बच्चू सिंह वर्मा, चुना हरियाली का रास्ता; लगा दिए 65 हजार पेड़-पौधे

बच्चू सिंह वर्मा पिछले 17-18 वर्षों से अपने घर और आसपास के इलाकों में पौधरोपण कर रहे हैं. वह न सिर्फ पौधे लगाते हैं, बल ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट : ललितेश कुशवाहा

भरतपुर. भरतपुर के बच्चू सिंह वर्मा (Bachchu Singh Verma of Bharatpur) पिछले 17-18 वर्षों से अपने घर और आसपास के इलाकों में पौधरोपण कर रहे हैं. वह न सिर्फ पौधे लगाते हैं, बल्कि इनकी देखभाल भी करते हैं. उन्होंने अब तक लगभग 65 हजार (65 Thousands) से अधिक पेड़-पौधे लगाए हैं. बच्चू सिंह को जहां भी खाली जगह दिखती है, उसे वह हरियाली से भरना शुरू कर देते हैं. उनके प्रयासों के कारण आज शहर के लोगों को शुद्ध हवा मिल पा रही हैं. बच्चू सिंह निजी खर्चे से शहर के विभिन्न चौराहों पर पेड़ लगाकर लोगों के लिए मिसाल बन गए हैं.

उनके द्वारा किए जा रहे इस कार्य को लेकर राज्य स्तर व जिला स्तर पर सराहा गया है और सैकड़ों सामाजिक संस्थाओं ने सम्मानित भी है.

बच्चू सिंह वर्मा कहते हैं, ”उन्हें बचपन से ही पर्यावरण से लगाव था, सबसे पहले अपने घर और आसपास के खाली पड़े स्थान पर पौधे लगाना शुरू किया. उसके बाद धीरे-धीरे इस मुहिम को आगे बढ़ाता गया और यह कारवां अब यहां तक आ पहुंचा है. पौधारोपण करते हुए अब करीब 17-18 साल हो गए, बिना किसी दूसरों की मदद से यानी निजी खर्चे पर 65 हजार से अधिक पौधे लगा चुका हूं.” खास बात ये है कि बच्चू सिंह से विभिन्न संस्थाओं द्वारा अलग से भेंट किए गए 15000 पौधे भी रोपे हैं और वह हरे भरे हैं. इनके द्वारा लगाए गए पौधे आज विशाल रूप ले चुके हैं जिनके नीचे लोग बैठकर छाया का आनंद लेते हैं.

निजी खर्चे से इन स्थानों पर लगा चुके हैं पौधे…
बच्चू सिंह वर्मा ने कहा कि उनके द्वारा शहर के काली बगीची से शीशम तिराहे तक, राजेन्द्र नगर, कृष्णा नगर, जवाहर नगर, गौरव पथ, सारस चौराहे से सर्किट हाउस चौराहा, यातायात चौराहे से मल्टीपरज स्कूल रोड ,पुलिस विभाग कर्यालय,मेडिकल व इंजिनियर सहित विभिन्न विधालय व महाविधालय के खाली पड़े स्थान पर पौधे लगाएं है. इस मुहिम में किसी व्यक्ति व संस्थाओं द्वारा आर्थिक रूप से किसी भी प्रकार की कोई मदद नहीं ली है. वही मकान किराया व कृषि से होने वाली आय से यह कार्य कर रहें है.

इसी आय से पौधों को बचाने के लिए बाकायदा ट्री गार्ड से भी कवर करने के साथ साथ ना सिर्फ इन पौधों को जानवरों से सुरक्षित रखा जा रहा है, बल्कि इन पौधों को नुकसान ना पहुंचे. इसके अलावा पौधों के लिए पानी देने की व्यवस्था टेम्पो के माध्यम कर रखी है जिससे यह पौधे सूखे नहीं.

सर्दी का मौसम शुरू होते ही कर रहे है पेड़ों की कटाई और छंटाई…
सर्दी के मौसम की शुरुआत होते ही पेड़ो की कटाई छंटाई का कार्य वर्मा द्वारा मजदूर लगवाकर किया जा रहा है. यह काम सुबह 9 बजे से दोपहर एक बजे तक चलता है. वहीं एक महीने से अब तक लगभग 20 हजार से अधिक पेड़ों की कटाई छंटाई की जा चुकी है. उन्होंने कहा कि कोरोना काल में ऑक्सीजन को लेकर लोगों में मारामारी देखी गई .पर्यावरण को संतुलित व सुरक्षित रखना हम सभी कि जिम्मेदारी बनती है. पर्यावरण हमारे जीवन का आधार है. यह हमें ऑक्सीजन प्रदान करते हैं जिन्हें हम श्वास के रूप में ग्रहण करते हैं. बच्चू सिंह लोगों से अपील करते हैं कि एक-एक नागरिक कम से कम दो-दो पेड़ अवश्य लगाएं.

Tags: Bharatpur News, Rajasthan news, Tree

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें