भरतपुर में ओएलएक्स के जरिए ठगी का शिकार होने से बचे यूपी के दो लोग

ओएलएक्स के जरिए ठगी का शिकार होने से बचे उत्तर प्रदेश के दो लोग
ओएलएक्स के जरिए ठगी का शिकार होने से बचे उत्तर प्रदेश के दो लोग

ओएलएक्स पर विज्ञापन देखकर गाजियाबाद से दो युवक गाड़ी खरीदने के उद्देश्य से कांमा आए, लेकिन पुलिस की सजगता से दोनो युवक ठगी का शिकार होने से बच गए.

  • Share this:
राजस्थान के भरतपुर के मेवात इलाके में ओएलएक्स के माध्यम से विज्ञापन देकर सस्ते दामों में गाड़ी बेचने का झांसा देकर ठगी करने का गोरखधंधा थमने का नाम नहीं ले रहा है. बदमाश आए दिन ओएलएक्स पर सस्ती गाड़ी बेचने के नाम पर लोगों से ठगी करने से बाज नहीं आ रहे हैं. ऐसा ही ओएलएक्स पर विज्ञापन देखकर गाजियाबाद से दो युवक गाड़ी खरीदने के उद्देश्य से कांमा आए, लेकिन पुलिस की सजगता और जगह-जगह ठगी से बचने के लिए लगाए गए जागरूकता बोर्ड की वजह से दोनों युवक ठगी का शिकार होने से बच गए.

धीलावटी चौकी प्रभारी अर्जुन सिंह ने बताया कि गाजियाबाद के अभिषेक त्यागी व मोहित त्यागी ओएलएक्स पर कार का विज्ञापन देखकर बदमाशों की बातों में आ गए और उनसे ढाई लाख रुपए में कार खरीदने का सौदा तय  कर कांमा आ गए. जब दोनों युवक बाइक पर सवार होकर कामा पहुंचे तो उनकी नजर उत्तर प्रदेश सीमा पर धीलावटी  बॉर्डर के पास लगे चेतावनी बोर्डों को देख कर युवकों को कुछ शक हो गया और उन्होंने चौकी पर आकर इन बोर्डों के बारे में पुलिस वालों से पूछा तो पुलिस के अधिकारी को समझते देर ना लगी.

पुलिस ने गाजियाबाद से आए दोनों युवकों से पूछा कि वह यहां क्यों आए हैं तो उन्होंने बताया कि ओएलएक्स के विज्ञापन देखकर गाड़ी खरीदने आए हैं. बाद में पुलिस ने उन्हें सारा माजरा समझा दिया और जिस जगह इन लोगों को बदमाशों ने बुलाया था वहां पर पुलिस ने दबिश भी दी, लेकिन बदमाशों को संदेह हो गया और वह वहां से फरार हो गए. फिलहाल पुलिस ने दोनों गाजियाबाद के युवकों को समझा- बुझाकर सकुशल वापस भेज दिया.



यह भी देखें-  VIDEO स्टोरी- ओएलएक्स पर विज्ञापन देकर लाखों की ठगी!
यह भी पढ़ें- रेल व सेल में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी, पुलिस ने तीन जालसाजों को दबोचा

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज