रैगिंग मामले में मेडिकल कॉलेज की 15 लड़कियों पर गिरी गाज, 15 दिन के लिए सस्पेंड

News18 Rajasthan
Updated: August 30, 2019, 3:19 PM IST
रैगिंग मामले में मेडिकल कॉलेज की 15 लड़कियों पर गिरी गाज, 15 दिन के लिए सस्पेंड
रैगिंग की दोषी पाए गई 15 छात्राओं को 15 दिन के लिए कॉलेज से सस्पेंड कर दिया गया है. (फोटो- रैगिंग के वायरल वीडियो की तस्वीर)

भीलवाड़ा मेडिकल कॉलेज (bhilwara medical college) के हॉस्टल में रैगिंग (ragging) के मामले में शुक्रवार को रैगिंग की दोषी पाए गई 15 छात्राओं (girl students) को 15 दिन के लिए कॉलेज से सस्पेंड (suspended from college) कर दिया गया है.

  • Share this:
राजस्थान के भीलवाड़ा में एक मेडिकल कॉलेज (bhilwara medical college) के हॉस्टल में रैगिंग (ragging) के मामले में शुक्रवार को रैगिंग की दोषी पाए जाने पर 15 छात्राओं (girl students) को 15 दिन के लिए कॉलेज से सस्पेंड (suspended from college) कर दिया गया है. कॉलेज प्रिंसिपल डॉ. राजन नंदा ने जांच कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर छात्राओं को सस्पेंड करने के आदेश जारी किए हैं. मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस (mmbs) प्रथम वर्ष की छात्रा की रैगिंग के मामले में जांच कमेटी ने एक दिन पहले रिपोर्ट प्रिंसिपल को दी थी.

सीनियर्स को सजा के बाद जूनियर्स अब भी सहमी

प्रिंसिपल डॉ. राजन नंदा के अनुसार रैंगिग मामले की जांच के लिए कॉलेज की 9 सदस्यीय एंटी रैगिंग कमेटी ने अपनी रिपोर्ट दी है. इस रिपोर्ट में दोषी पाए जाने वाले छात्रों के खिलाफ कार्रवाई की गई है.
इधर, इस मामले में जूनियर छात्राएं अब भी सहमी हुई हैं कही सीनियर्स इस कार्रवाई के चलते उनपर कोई बड़ा कदम न उठा लें.

ये भी पढ़ें- OMG! सरकारी स्कूल से रिटायरमेंट पर मास्टरजी ने बुक कराया हेलीकॉप्टर

15 दिन के लिए सस्पेंड कही भार न पड़ जाए

जानकारी के अनुसार 2017-18 सत्र में 36 छात्र यूनिवर्सिटी की मुख्य परीक्षा महज इस लिए नहीं दे पाए थे क्यों कि उनकी उपस्थिति कम थी. ऐसे में कॉलेज से 15 दिन के निलंबन के चलते इन स्टूडेंट्स पर भी हाजिरी कम होने की आशंका से भी इनकार नहीं किया जा सकता.
Loading...



ये भी पढ़ें- सांसद हनुमान बेनीवाल का महापड़ाव जारी, सरकार को दी ये चेतावनी

ये है पूरा मामला

जयपुर की एक युवती भीलवाड़ा मेडिकल काॅलेज में पढ़ाई कर रही है. उसके पिता ने उसके साथ रैगिंग की लिखित शिकायत काॅलेज प्रिंसिपल राजन नंदा से की थी. कॉलेज प्रबंधन ने कमेटी बनाई और दाे दिन में रिपाेर्ट देने की बात कही. इस दौरान छात्रा के लिए अलग से वार्डन लगाया गया. एमबीबीएस प्रथम वर्ष की इस छात्रा के पिता के अनुसार मंगलवार रात सीनियर छात्राओं ने उनकी बेटी से डांस कराया और गाने के लिए भी कहा. यही नहीं रात 2 दो बजे तक उसे जगाए रखा. यह भी आरोप लगाया गया कि रैगिंग की ऐसी घटनाए कॉलेज में एडमिशन के साथ ही चल रही हैं.

ये भी पढ़ें- मुख्यमंत्री के नाम पर राजस्थान यूनिवर्सिटी छात्रसंघ अध्यक्ष पूजा वर्मा ट्रोल हो रही

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 30, 2019, 2:03 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...