होम /न्यूज /राजस्थान /

राजस्थान: कांग्रेस के बाद अब बीजेपी ने शुरू की विधायकों की बाड़ेबंदी, 6 MLA को भेजा पोरबंदर

राजस्थान: कांग्रेस के बाद अब बीजेपी ने शुरू की विधायकों की बाड़ेबंदी, 6 MLA को भेजा पोरबंदर

राजस्थान में अब बीजेपी ने भी विधायकों की बाड़ेबंदी शुरू कर दी है.

राजस्थान में अब बीजेपी ने भी विधायकों की बाड़ेबंदी शुरू कर दी है.

शनिवार को जयपुर एयरपोर्ट (Jaipur Airport) से भाजपा (BJP) के छह विधायक (MLAs) पोरबंदर के लिए रवाना हुए. इन विधायकों में से तीन भीलवाड़ा जिले के हैं, जो पहली बार चुनाव जीतकर विधायक बने हैं.

भीलवाड़ा. राजस्थान में विधायकों की बाड़ेबंदी पर कांग्रेस (Congress) को घेरने वाली मुख्य विपक्षी पार्टी भाजपा (BJP) ने भी अब अपने विधायकों (MLAs) की खरीद-फरोख्त के डर से बाड़ेबंदी शुरू कर दी है. इस सिलसिले में जयपुर एयरपोर्ट (Jaipur Airport) से भाजपा के छह विधायक पोरबंदर (Porbandar) के लिए रवाना हुए. इन विधायकों में से तीन भीलवाड़ा जिले के विधायक हैं, जो पहली बार चुनाव जीतकर विधायक बने हैं.

आसींद के विधायक जबर सिंह सांखला, जहाजपुर के गोपीचंद मीणा और मांडलगढ़ के गोपाल शर्मा, इन तीनों विधायकों को भारतीय जनता पार्टी ने पहली बार चुनावी समर में मैदान में उतारा था. और तीनों विजयी हुए थे. जबर सिंह सांखला आसींद में चाय की थड़ी लगाते थे, तो गोपीचंद मीणा शिक्षा विभाग में पीटीआई की सरकारी सेवा में थे. वहीं गोपाल शर्मा का बैकग्राउंड पुराने कांग्रेसी का रहा है. शर्मा भीलवाड़ा नगर विकास न्यास के अध्यक्ष रहे हैं और बड़े खनन व्यवसाई माने जाते हैं.

भीलवाड़ा जिले के शेष दो बीजेपी विधायकों में भीलवाड़ा शहर से विट्ठल शंकर अवस्थी आरएसएस के हार्डकोर सदस्य माने जाते हैं. वो तीसरी बार भीलवाड़ा से चुनाव जीते हैं. वहीं शाहपुरा के विधायक पूर्व विधानसभा अध्यक्ष कैलाश मेघवाल हैं.

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जबर सिंह सांखला और गोपीचंद मीणा को प्रदेश भाजपा के नेताओं ने 3 दिन पूर्व फोन कर जयपुर बुलाया. मांडलगढ़ के विधायक गोपाल शर्मा को कल जयपुर बुलाया गया. जिसके बाद आज इन तीनों विधायकों को पोरबंदर भेजा गया है. ऐसा माना जा रहा है कि भाजपा पहले अपनी कमजोर कड़ियों को सुरक्षित करने में जुटी है.

सभी 72 विधायकों को एकत्र करेगी बीजेपी 

सूत्रों के अनुसार भाजपा अपने सभी 72 विधायकों को एकत्र करेगी. भीलवाड़ा के विधायक विट्ठल शंकर अवस्थी और शाहपुरा के विधायक कैलाश मेघवाल को भी दो-तीन दिन बाद मध्यप्रदेश और गुजरात दोनों में से एक स्थान पर ले जाया जा सकता है. अभी फिलहाल इन्हें अपना अपने स्थानों पर रुकने के निर्देश दिए गए हैं. जानकारी के मुताबिक अब तक कुल 11 विधायक जयपुर से पोरबंदर पहुंच चुके हैं. इसके अलावा उदयपुर संभाग के विधायकों को पहले ही गुजरात भेजा जा चुका है.

Tags: Bhilwara news, Rajasthan bjp, Rajasthan news

अगली ख़बर