राजस्थान के 11 जिलों में चलाया जाएगा एड्स जागरुकता अभियान

फोटो-(ईटीवी)

राजस्थान के ग्यारह जिलों में एड्स से संबंधित जागरूकता अभियान जल्द चलाया जाएगा. चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा आयोजित किए जाने वाले कैम्पों में आईसीडीएस विभाग की मदद ली जाएगी.

  • Share this:
    चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा आयोजित किए जाने वाले कैम्पों में समेकित बाल विकास सेवा (आईसीडीएस) विभाग की मदद ली जाएगी.

    आईसीडीएस विभाग के निदेशक डॉ. सुमित शर्मा ने 11 जिलों के उपनिदेशकों को इस समबन्ध में निर्देश जारी किए हैं. बाड़मेर, भीलवाडा, चित्तौडगढ़, डूंगरपुर, जालौर, पाली, राजसमंद, सिरोही, बांसवाडा, प्रतापगढ़ और उदयपुर में अभियान चलाया जाएगा.

    महिला एवं बाल विकास विभाग की विभिन्न परियोजनाओं में काम कर रहे महिला पर्यवेक्षक, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, आशा सहयोगिनी, आंगनबाड़ी सहायिका के माध्यम से क्षेत्र मे विस्थापितों को चिन्हित कर कैम्प में लाना होगा.

    वहीं ब्लॉक स्तरीय योजना तैयार करने में सहायता प्रदान करने में सहायता करेंगे. इस अभियान से इन 11 जिलों में लोगों की एड्स को लेकर भ्रांतियों के प्रति जागरुकता बढ़ेगी.

    ये होते हैं एड्स के लक्षण
    एड्स एक ऐसी बीमारी है जिसका पता शुरूआती चरण में नही लगता किन्तु एड्स को फ़ैलाने वाले वायरस एचआईवी के कुछ शुरूआती लक्षणों को पहचाना जा सकता है. इनके मुख्य लक्षण ये होते हैं. लगातार बुखार, थकान, मांसपेशियों में खिंचाव, जोड़ों में सुजन और दर्द, गले में दर्द और सुखापन, सिर दर्द, अकारण वजन घटना, त्वचा पर खुजली और निशान, चिंता, उल्टी, जुखाम और हफ्तों तक खांसी हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.