Home /News /rajasthan /

नगर पालिका आयुक्त तनुजा सोलंकी रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार

नगर पालिका आयुक्त तनुजा सोलंकी रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार

राजस्थान के राजसमंद जिले की नाथद्वारा नगर पालिका आयुक्त तनुजा सोलंकी को भष्ट्राचार निरोधक ब्यूरो ने सोमवार को रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. जानकारी के अनुसार एसीबी की इस कार्रवाई में आयुक्त को 15 हजार की घूस लेते गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तार आयुक्त तनुजा के खिलाफ एसीबी के अधिकारियों की नगर पालिका कार्यालय में फिलहाल कार्रवाई जारी है.

राजस्थान के राजसमंद जिले की नाथद्वारा नगर पालिका आयुक्त तनुजा सोलंकी को भष्ट्राचार निरोधक ब्यूरो ने सोमवार को रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. जानकारी के अनुसार एसीबी की इस कार्रवाई में आयुक्त को 15 हजार की घूस लेते गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तार आयुक्त तनुजा के खिलाफ एसीबी के अधिकारियों की नगर पालिका कार्यालय में फिलहाल कार्रवाई जारी है.

राजस्थान के राजसमंद जिले की नाथद्वारा नगर पालिका आयुक्त तनुजा सोलंकी को भष्ट्राचार निरोधक ब्यूरो ने सोमवार को रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है.

    राजस्थान के राजसमंद जिले की नाथद्वारा नगर पालिका आयुक्त तनुजा सोलंकी को भष्ट्राचार निरोधक ब्यूरो ने सोमवार को रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है.

    जानकारी के अनुसार एसीबी की इस कार्रवाई में आयुक्त को 15 हजार की घूस लेते गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तार आयुक्त तनुजा के खिलाफ एसीबी के अधिकारियों की नगर पालिका कार्यालय में फिलहाल कार्रवाई जारी है.
    एसीबी ने तनुजा को 15 हजार की घूस लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. तनुजा अपनी कार्यशैली को लेकर भी चर्चा में रही हैं. भीलवाड़ा एसीबी की कार्रवाई में गिरफ्तार तनुजा को नाथद्वारा में पोस्टिंग जैसलमेर के एक नेता के दबाव में मिली थी.

    चार महीने पहले कांग्रेस ने भी की थी तनुजा की शिकायत:

    नगरपालिका कार्यालय में भामाशाह कार्ड बनवाने को लेकर पिछले साल दिसंबर में कांग्रेस ने एसडीएम को पालिका आयुक्त के अशोभनीय व्यवहार को लेकर ज्ञापन सौंपा था. इसमें उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई थी. दरअसल, भामाशाह फॉलोअप शिविर में भामाशाह कार्ड मशीन नहीं होने पर वार्ड पार्षद, नगर कांग्रेस उपाध्यक्ष सहित स्थानीय लोगों ने आक्रोश व्यक्त किया था. नगर कांग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष रमेश मेघदूत, जिला पदाधिकारी रामचंद्र पालीवाल आदि मशीन नहीं होने की शिकायत लेकर आयुक्त के पास गए थे. मेघदूत के अनुसार आयुक्त ने कहा कि शिविर उनकी जिम्मेदारी नहीं है, नपा ने मात्र जगह दी है, जबकि शिविर एसडीएम ने लगवाया है. मेघदूत ने कहा कि आयुक्त ने अशोभनीय भाषा का इस्तेमाल कर उन्हें अन्य को कक्ष से बाहर जाने को कहा.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर