लाइव टीवी

हाथ में फ्रेक्चर होने के बाद भी कांस्टेबल ने लगवाई अपनी ड्यूटी, काेराेनाजाेन में हुई महिला डॉक्टर की पहली नियुक्ति
Bhilwara News in Hindi

News18 Rajasthan
Updated: April 5, 2020, 2:32 PM IST
हाथ में फ्रेक्चर होने के बाद भी कांस्टेबल ने लगवाई अपनी ड्यूटी, काेराेनाजाेन में हुई महिला डॉक्टर की पहली नियुक्ति
15 दिन पहले धर्मेंद्र का बाइक से एक्सीडेंट हो गया था. (प्रतीकात्मक फोटो)

डॉ. लवीना (Dr. Lavina) का कहना है कि वह चाहती ताे पीजी की तैयारी के लिए घर बैठकर स्टडी कर सकती थी. लेकिन...

  • Share this:
भीलवाड़ा. राजस्थान में कोरोना पीड़ित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है. अब प्रदेश में कोरोना (Corona) पीड़ित मरीजों की संख्या 204 हो गई है. वहीं, कोरोना को हराने में डॉक्टर (Doctor) और पुलिसकर्मी (Police) भी जज्बे का साथ लगे हुए हैं. इन पुलिसकर्मी और डॉक्टर्स अपनों से ज्यादा समाज और देश के लिए समय दे रहे हैं. यही वजह है कि सूरत से एमबीबीएस पासआउट डॉ. लवीना ने उच्च शिक्षा ग्रहण करने के बजाए, कोरोना पीड़ितों का इलाज करना ज्यादा महत्वपूर्ण समझा. जबकि इस काम में उनके साथ भी खतरा हो सकता है, क्योंकि कई डॉक्टर्स भी कोरोना पीड़ितों का इलाज करते -करते खुद COVID-19 पॉजिटिव हो गए.

डॉ. लवीना का कहना है कि वह चाहती ताे पीजी की तैयारी के लिए घर बैठकर स्टडी कर सकती थी. लेकिन मुझे संकट की इस घड़ी में घर बैठना अच्छा नहीं लगा और राष्ट्र सेवा के लिए जूनियर रेजीडेंट के ताैर पर ज्वाइन कर लिया. डॉ. लवीना ने महात्मा गांधी अस्पताल में एक अप्रैल से अपनी सेवा शुरू कर दी हैं. वो राेटेशन में ड्यूटी दे रही हैं. यहां एक सप्ताह की ड्यूटी के बाद 14 दिनाें के हाेम क्योरेंटाइन में रहना होगा.

कांस्टेबल धर्मेंद्र का एक हाथ में है फ्रेक्चर
दैनिक भास्कर के मुताबिक, ऐसा ही एक कोरोना वॉरियर हैं कांस्टेबल धर्मेंद्र कुमार. वे अब समाज के लिए एक उदाहरण बन गए हैं. दरअसल, 15 दिन पहले धर्मेंद्र बाइक एक्सीडेंट में घायल हो गए थे. इस एक्सीडेंट में उनके एक हाथ में फ्रेक्चर हो गया. इसके बावजूद भी वे अपने कर्तव्य से पीछे नहीं हटे. वो सुभाषनगर थाने में तैनात हैं और अपनी ड्यूटी बखूबी कर रहे हैं. एएसपी राजेश मीणा ने बताया कि धर्मेंद्र कुमार ने खुद लॉकडाउन में ड्यूटी के लिए आग्रह किया था. ऐसे में वो भी मना नहीं कर सके. हालांकि, डॉक्टर्स ने हाथ फ्रेक्चर होने पर प्लास्टर बांधते हुए कुछ दिन आराम की सलाह दी थी. इस बीच शहर में कर्फ्यू लग गया. ऐसे में धर्मेंद्र की इच्छा ड्यूटी देने के लिए जागी. सुभाषनगर थानाधिकारी नवनीत व्यास समेत अन्य अधिकारियों से अपनी ड्यूटी लगाने का आग्रह किया और काम पर आ गए.



ये भी पढ़ें- 



Lockdown: राजस्थान में फंसे हैं कई विदेश पर्यटक, संपर्क साधने में जुटा विभाग

राजस्थान में आज 12 नए पॉजिटिव मामले आए सामने, 8 लोगों का संबंध तबलीगी जमात

 

 

.

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भीलवाड़ा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 5, 2020, 1:59 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading