Home /News /rajasthan /

जनता का दमन बंद करे भाजपा : सचिन पायलट

जनता का दमन बंद करे भाजपा : सचिन पायलट

सचिन पायलट. (फोटो- ईटीवी)

सचिन पायलट. (फोटो- ईटीवी)

सचिन पायलट ने युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के खिलाफ सरकार के ईशारे पर किए गए लाठीचार्ज की निन्दा की है.

  • Pradesh18
  • Last Updated :
    राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के खिलाफ सरकार के ईशारे पर किए गए लाठीचार्ज की कड़े शब्दों में निन्दा की है.
    पायलट ने रविवार को एक बयान जारी कर कहा कि भाजपा सरकार की नोटबंदी के कारण पूरा देश परेशान है, आमजनता की भावना को अभिव्यक्त करने के लिए युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं द्वारा भीलवाड़ा में शांतिपूर्वक प्रदर्शन किया गया, परन्तु ज्ञापन देने जाने के दौरान कार्यकर्ताओं पर बर्बर लाठीचार्ज किया गया. इस लाठीचार्ज में कई युवा गंभीर रूप से घायल हो गए हैं.

    उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार लोकतांत्रिक मूल्यों का हनन करने पर आमदा है और जनता की आवाज को दबा रही है. उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने जनविरोधी नीतियों को अंजाम देकर जनता का शोषण किया है और सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ आवाज उठाने वालों का दमन किया जा रहा है.
    पायलट ने कहा कि भाजपा सरकार ने हर वर्ग का शोषण कर साबित कर दिया है कि वह जनता के जनादेश का अपमान कर रही है. उन्होंने कहा कि शनिवार को भाजपा सरकार की वादाखिलाफी से परेशान होकर बेरोजगारी का दंश झेल रहे विद्यार्थी मित्र की मौत हो गई है.

    उन्होंने कहा कि केन्द्र और राज्य की भाजपा सरकार की जनविरोधी कार्यप्रणाली के कारण प्रदेश के युवा, महिला, किसान, अनुसूचित जाति और जनजाति के लोगों पर शोषण निरन्तर बढ़ रहा है. उन्होंने कहा कि कानून-व्यवस्था को बनाए रखने व जनता को सुविधाएं प्रदान करने में विफल रहने वाली भाजपा सरकार जनता के हितों पर कुठाराघात कर उसका दमन कर रही है. पायलट ने भीलवाड़ा में हुए लाठीचार्ज के जिम्मेदारों के खिलाफ कार्यवाही की मांग की है.

    Tags: Bhilwara news, Rajasthan news, Sachin pilot

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर