होम /न्यूज /राजस्थान /

भीलवाड़ा: कार्रवाई करने गए तहसीलदार और पटवारियों को खनन माफिया ने जमकर पीटा

भीलवाड़ा: कार्रवाई करने गए तहसीलदार और पटवारियों को खनन माफिया ने जमकर पीटा

पुलिस अधीक्षक प्रीति चंद्रा ने कहा कि पिछले दिनों एक परिपत्र जारी कर सभी राजस्व और खनिज अधिकारियों को अवैध खनन संबंधित जांच के समय पुलिस सहायता ले जाने का उल्लेख किया था.

पुलिस अधीक्षक प्रीति चंद्रा ने कहा कि पिछले दिनों एक परिपत्र जारी कर सभी राजस्व और खनिज अधिकारियों को अवैध खनन संबंधित जांच के समय पुलिस सहायता ले जाने का उल्लेख किया था.

तहसीलदार मुकंद सिंह (Tehsildar Mukund Singh) ने कहा कि उन्हें शिकायत मिली थी कि गोदान के बड़ा गांव में अवैध खनन हो रहा है. उसी शिकायत पर वह जांच करने गए थे.

भीलवाड़ा. राजस्थान के भीलवाड़ा जिले में एक बड़ी खबर सामने आई है. यहां के जहाजपुर उपखंड (Jahazpur Subdivision) में खनन माफिया ने तहसीलदार और दो पटवारियों को पीटा है. इस घटना से पुलिस-प्रशासन भी सकते में आ गया. शिकायत के बाद मामले की जांच शुरू कर दी गई है. दरअसल, पुलिस अधीक्षक के सर्कुलर की अनदेखी कर बिना पुलिसबल के ही तहसीलदार और दो पटवारी खनन माफिया (Mining Mafia) के खिलाफ कार्रवाई करने गए थे. इस दौरान गोदान के बाड़ा गांव के लोगों ने अवैध खनन रोकने गए जहाजपुर के तहसीलदार मुकुंद सिंह शेखावत (Tehsildar Mukund Singh Shekhawat) और पीपलुन्द के पटवारी भैरू सिंह और इटुंदा के पटवारी घनश्याम के साथ मारपीट कर दी.

तहसीलदार मुकंद सिंह शेखावत ने कहा कि उन्हें शिकायत मिली थी कि गोदान का बड़ा गांव में अवैध खनन हो रहा है. उसी शिकायत पर वह जांच करने गए थे. मगर गांव के 50 से अधिक लोगों ने इकट्ठा होकर उनके साथ मारपीट की और उनका मोबाइल भी छीन लिया. गोदान का बड़ा गांव की चंपा मीणा ने तहसीलदार और पटवारी पर उनके घर में घुसकर उसके और उसकी भाभी के साथ अभद्र व्यवहार कर मारपीट करने का आरोप लगाया है. वहीं, जहाजपुर उपखंड में ही उपखंड मजिस्ट्रेट के अवैध बजरी खनन रोकने के दौरान एक ट्रैक्टर चालक द्वारा उनके सरकारी जीप के ड्राइवर को कुचल कर मार देने की घटना भी कुछ ही दिनों पूर्व हुई थी.

SP ने कही यह बात
पुलिस अधीक्षक प्रीति चंद्रा ने कहा कि पिछले दिनों एक परिपत्र जारी कर सभी राजस्व और खनिज अधिकारियों को अवैध खनन संबंधित जांच के समय पुलिस सहायता ले जाने का उल्लेख किया था. मगर जहाजपुर तहसीलदार बिना पुलिस सहायता के ही जांच के लिए चले गए. पुलिस अधीक्षक ने कहा कि तहसीलदार ने अपने साथ मारपीट की घटना की जानकारी दी है और ग्रामीणों ने ट्रैक्टर मालिक और उसकी बहन के साथ तहसीलदार द्वारा मारपीट की बात कही है. दोनों की जांच चल रही है.

Tags: Bhilwara news, Crime in Rajasthan, Rajasthan news

अगली ख़बर