बीकानेर में खेल-खेल में अनाज की टंकी में बैठे पांच बच्चों की दम घुटने से मौत, मचा कोहराम

अनाज की टंकी में बंद होने की वजह से दम घुटने से मारे गए बच्चों में चार लड़कियां और एक लड़का है

अनाज की टंकी में बंद होने की वजह से दम घुटने से मारे गए बच्चों में चार लड़कियां और एक लड़का है

घटना के वक्त परिवार के सभी सदस्य खेत में काम करने गए हुए थे. घर में कोई नहीं होने के कारण बच्चों के चीखने-पुकारने की आवाज कोई सुन न सका. टंकी में काफी देर तक बंद रहने से पांचों बच्चों की दम घुटने से मौत (Death Due To Suffocation) हो गई

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 21, 2021, 9:21 PM IST
  • Share this:
बीकानेर. राजस्थान के बीकानेर (Bikaner) में दर्दनाक हादसे में पांच बच्चों की जान चली गई. घटना नापासर थाना क्षेत्र के हिमतसर गांव की है जहां रविवार को मतसर गांव में घर के आंगन में रखे अनाज की टंकी में पांच छोटे बच्चों की दम घुटने (Children Death) से मौत हो गई. मृतकों में चार लड़कियां और एक लड़का शामिल है. घटना के बाद घर में कोहराम मच गया. बताया जा रहा है कि पांचों बच्चे घर के आंगन में खेल रहे थे. खेल-खेल में वो वहां रखी अनाज की टंकी में जाकर बैठ गए. इस दौरान अचानक अनाज की टंकी का ढक्कन बंद हो गया. इससे सभी बच्चे अंदर फंस गए. घटना के वक्त परिवार के सभी सदस्य खेत में काम करने गए हुए थे. घर में कोई नहीं होने के कारण बच्चों के चीखने-पुकारने की आवाज कोई सुन न सका. टंकी में काफी देर तक बंद रहने से पांचों बच्चों की दम घुटने से मौत (Death Due To Suffocation) हो गई.

बाद में परिवार के लोग घर लौटे तो उन्होंने बच्चों को वहां नहीं पाया. बच्चों की खोजबीन शुरू हुई तो वो सब उन्हें अनाज की टंकी में मिले. आनन-फानन में पांचों बच्चों को बाहर निकाला गया लेकिन तब तक उनकी सांसें बंद हो चुकी थीं. एक साथ पांच छोटे बच्चों की मौत से पूरे गांव में मातम और सन्नाटा पसरा है. हादसे के शिकार इन सभी बच्चों की उम्र तीन वर्ष से आठ वर्ष के बीच बताई जा रही है. बताया जा रहा है कि चार बच्चे सगे भाई-बहन थे जबकि एक परिवार का ही बच्चा था.

सूचना पाकर मौके पर पहुंची नापासर पुलिस ने पांचों बच्चों के शवों को अपने कब्जे में लेकर उन्हें अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया है. रविवार होने की वजह से इनका पोस्टमॉर्टम नहीं करवाया जा सका, अब सोमवार को इनका पोस्टमॉर्टम करवाया जाएगा. पोस्टमॉर्टम के बाद सभी के शव परिजनों के सुपुर्द कर दिये जाएंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज