बीकानेर को रेलवे लाइन से मिल सकती है राहत, कोर्ट ने सुरक्षित रखा फैसला

Chandra Shekhar Vyas | ETV Rajasthan
Updated: January 10, 2018, 11:33 AM IST
बीकानेर को रेलवे लाइन से मिल सकती है राहत, कोर्ट ने सुरक्षित रखा फैसला
राजस्थान हाईकोर्ट की विशेष खण्डपीठ में सुनवाई पूरी करके फैसला सुरक्षित रख लिया गया है

राजस्थान हाईकोर्ट की विशेष खण्डपीठ में सुनवाई पूरी करके फैसला सुरक्षित रख लिया गया है.

  • Share this:
बीकानेर शहर के बीच से गुजरने वाली रेलवे लाइन के चलते यातायात की समस्या से बीकानेर शहर को जल्द राहत मिलने की उम्मीद है. साल 2014 बीकानेर निवासी मुकलकृष्ण व्यास की जनहित याचिका पर राजस्थान हाईकोर्ट की विशेष खण्डपीठ में सुनवाई पूरी करके फैसला सुरक्षित रख लिया गया है. जल्द ही विशेष खण्डपीठ अपना फैसला सुनाएंगी. फैसला चाहे कुछ भी आए यह तय है कि अब बीकानेर को लम्बे जाम से आजादी दिलाने की कवायद जल्द शुरू हो जाएगी.

बता दें कि राजस्थान हाईकोर्ट की विशेष खंडपीठ में बीकानेर शहर के बीच मे से गुजरने वाली रेलवे लाइन से निजात पाने के लिए दायर जनहित याचिका पर मंगलवार को सुनवाई पूरी होने के साथ फैसला सुरक्षित किया गया है. जस्टिस संगीत लोढा व जस्टिस अरुण भंसाली की विशेष खंडपीठ में आज याचिकाकर्ता मुकुल कृष्ण व्यास की जनहित याचिका पर अंतिम सुनवाई हुई.

रेलवे तथा राज्य सरकार की ओर से कहा गया कि पूर्व में कोर्ट के आदेशों की पालना में ही सरकार और रेलवे के उच्चाधिकारियों के मध्य हुए विचार विमर्श के बाद में बीकानेर में रेलवे लाइन के ऊपर से एलिवेटेड रोड निर्माण का प्रोजेक्ट तैयार किया गया था. जो अब फाइनल स्टेज पर है. जब कि बाइपास के लिए नया प्रोजेक्ट सर्वे, एस्टिमेट्स और भूमि अवाप्ति आदि में फिर से कई साल लग जाएंगे, तब तक शहर का और विस्तार हो जाएगा. और फिर नए बाईपास की मांग होगी.

दूसरी ओर अधिवक्ता आर के गुप्ता और एसडी व्यास का कहना था कि शहर के बीच से रेल लाइन उखाड़ दी जाए और रेलवे बाइपास बनाया जाए. रेलवे की ओर से अधिवक्ता कमल दवे ने और सरकार की ओर से एएजी श्याम सुंदर लदरेचा और विकास चैधरी ने पैरवी की.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बीकानेर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 10, 2018, 11:33 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...