Home /News /rajasthan /

REET Exam 2021: चलती बस में दी गई थी नकल की ट्रेनिंग, चप्पल में छिपाकर ले गए थे इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस

REET Exam 2021: चलती बस में दी गई थी नकल की ट्रेनिंग, चप्पल में छिपाकर ले गए थे इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस

चप्पल में इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस ले गए थे नकलची.

चप्पल में इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस ले गए थे नकलची.

राजस्थान शिक्षक पात्रता परीक्षा (REET 2021) में नकल गिरोह व नकलियों के तरीकों को लेकर हर रोज नया खुलासा हो रहा है. अब बीकानेर पुलिस ने मामले में बड़ा खुलासा किया है.

बीकानेर. राजस्थान (Rajasthan) में हाल ही में हुई सबसे बड़ी रीट (REET 2021) की परीक्षा में नकल को लेकर बड़ा खुलासा किया गया है. नकलची चप्पल में इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस छिपाकर ले गए थे. इतना ही नहीं परीक्षा देने के लिए नकलची परीक्षार्थियों के लिए बस की विशेष सुविधा थी. नकल गिरोह द्वारा अभ्यर्थियों को चलती बस (Bus) में ही चीटिंग की ट्रेनिंग दी गई थी. चप्पल से नकल के खेल का खुलासा बीकानेर (Bikaner) की पुलिस ने करते हुए 5 आरोपियों को हाल ही में गिरफ्तार (Arrest) किया था, लेकिन पुलिस अब इस नकल मामले में एक एक कर सारी परतें खोलते हुए खुलासा कर रही है.

गंगाशहर थाना पुलिस ने इस नकल के खेल में अभ्यर्थियों को ट्रेनिंग सेशन का आयोजन करने वाले गैंग एक आरोपी गंगाशहर चौधरी कॉलोनी निवासी राकेश जाट को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस की प्रारम्भिक जांच में सामने आया की राकेश मुख्य अभियुक्त तुलसीराम कालेर का विश्वासपात्र है. नकल कराने के लिए रीट अभ्यर्थियों का एग्जाम से पहले एक ट्रेनिंग सेशन भी हुआ था.

ये भी पढ़ें: जयपुर-दिल्ली एक्सप्रेस की स्पीड बढ़ेगी, राजस्थान से गुजरने वाली 100 प्लस ट्रेनों का टाइम बदला

इस तरह दी गई नकल की ट्रेनिंग
पुलिस का मानना है कि राकेश के घर पर ही नकल की ट्रेनिंग के लिए अभ्यर्थियों को बुलाया गया था. 25 सितंबर को राकेश ने एक बस किराए पर लेकर आया था. इसी बस में परीक्षार्थियों को बैठाकर जयपुर रोड ले जाया गया, जहां मुख्य सरगना तुलसीराम कालेर भी बस में सवार हो गया. इसी चलती बस के अंदर नकल करने की ट्रेनिंग दी गई. यहीं तुलसीराम ने परीक्षार्थियों को नकल वाली डिवाइस को छिपाने और ऑपरेट करने की ट्रेनिंग दी.

कालेर की गिरफ्तारी पर इनाम
पुलिस का प्रयास मुख्य सरगना तुलसीराम कालेर को गिरफ्तार करना है. पुलिस गिरफ्त में आए लोगों से कालेर से जुडी जानकारियां जुटा रही है. वहीं अलग अलग टीमों को उसकी तलाशी में लगा रखा है. एसपी प्रीति चंद्रा ने पांच हजार का इनाम भी घोषित किया है. फिलहाल गैंग के खुलासे के बाद से कालेर पुलिस की पकड़ से दूर है. बता दें कि जेएनवीसी थाने में 2013-14 में कालेर के खिलाफ तीन मामले दर्ज हैं. वर्तमान के मुकदमों सहित उसके खिलाफ कुल सात मुकदमे बताए जा रहे हैं. सूत्रों का कहना है कि हर प्रतियोगी परीक्षा में हुई धांधली और नकल में कालेर की भूमिका हो सकती है.

Tags: Bikaner news, Rajasthan news, REET exam

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर