Corona Crisis: बीकानेर में धरम सज्जन ट्रस्ट ने सवा लाख प्रभावितों तक पहुंचाया खाना
Bikaner News in Hindi

Corona Crisis: बीकानेर में धरम सज्जन ट्रस्ट ने सवा लाख प्रभावितों तक पहुंचाया खाना
खाने के पैकेट्स के अलावा सेनेटाइजर, मास्क और साबुन समेत अन्य आवश्यक सामग्री का भी लगातार विरतण किया जा रहा है.

आपदा के समय प्रभावितों की सेवा करने में सदैव अग्रणी रहे धरम सज्जन ट्रस्ट ने एक बार फिर अपने सामाजिक सरोकार निभाते हुए कोरोना संकट (Corona Crisis) काल में प्रभावितों को राहत पहुंचाने का काम किया है.

  • Share this:
बीकानेर. आपदा के समय प्रभावितों की सेवा करने में सदैव अग्रणी रहे धरम सज्जन ट्रस्ट ने एक बार फिर अपने सामाजिक सरोकार निभाते हुए कोरोना संकट (Corona Crisis) काल में प्रभावितों को राहत पहुंचाने का काम किया है. कोरोना संकट काल में ट्रस्ट गत एक माह में सवा लाख से अधिक खाने के पैकेट्स (Food packets) प्रभावित को वितरीत कर चुका है. प्रभावितों के लिए जहां खाना बनवाया जा रहा है वहां कार्यरत स्टाफ की भी स्क्रीनिंग करवाई जा रही है. ट्रस्ट खाने के पैकेट्स के साथ ही अन्य उपयोगी सामग्री का भी वितरण करने में जुटा है.

पानी के टैंकरों की भी सप्लाई करवाई जा रही है
ट्रस्ट के न्यासी विरल चौपड़ा ने बताया कि प्रदेश की विभिन्न जेलों में कार्यरत जेलकर्मियों, बंदियों और कोरोना वॉरियर्स की भूमिका निभा रहे आरएसी के जवानों की जांच एवं सुरक्षा के लिए जेल महानिदेशक एनआरके रेड्डी और उप महानिदेशक मालिनी अग्रवाल के मार्फत 20 इन्फ्रारेड कॉन्टैक्ट लैंस थर्मामीटर भी ट्रस्ट की ओर से उपलब्ध करवाए गए हैं. इसी कड़ी में विभिन्न प्रभावित स्थानों पर करीब 100 टैंकरों से पानी की सप्लाई भी करवाई गई है. ट्रस्ट कोरोना संकट काल के शुरुआती चरण से ही प्रभावितों की मदद में जुटा हुआ है.




सेनेटाइजर, मास्क और साबुन भी दिए जा रहे हैं
बकौल विरल चौपड़ा आपदा राहत के तहत खाने के पैकेट्स का वितरण प्रशासनिक अधिकारियों के निर्देशन में करवाया जा रहा है. इस दौरान आई महावीर जयंती, रामनवमी, आखातीज और हनुमान जयंती पर खाने के विशेष पैकेट्स वितरीत कराए गए. इसके साथ ही सेनेटाइजर, मास्क और साबुन समेत आवश्यक सामग्री का भी लगातार विरतण किया जा रहा है. 1995 में स्थापित यह ट्रस्ट कला, संस्कृति, शिक्षा, स्वास्थ्य और पर्यावरण संरक्षण के कार्यों में जुटा हुआ है. ट्रस्ट से कई लेखक, समाजसेवी, कलाकार, शिक्षाविद् और चिंतक जुड़े हुए हैं. शहर में इस ट्रस्ट के अलावा कई अन्य संस्थाएं भी प्रभावितों की दिन रात सेवा में जुटी है.



69 वर्ष के हुए राजनीति के जादूगर सीएम अशोक गहलोत, यूं चढ़ी सफलता की सीढ़ियां

राजस्थान के करौली का सपूत जम्मू-कश्मीर के तंगधार में शहीद,आज आएगा पार्थिव शरीर
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading